liveindia.news

Bihar BJP को बड़ा नुकसान, संकट में Nitish!

बिहार में कोरोना के मामले रोजाना बढ़ते ही जा रहे हैं. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते पंचायत चुनाव एक बार फिर से टाले जा सकते हैं. इससे पहले चुनाव आयोग चुनावों को टालने के संकेत दे चुका है. हालांकि चुनाव आयोग ने कहा था कि चुनाव को लेकर समीक्षा की जाएगी, लेकिन कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए फिर से चुनाव टालने के आसार नजर आने लगे हैं और अगर चुनाव टलते हैं तो बिहार बीजेपी को बड़ा नुकसान हो सकता है. नीतीश कुमार पर विपक्ष का दबाव बढ़ सकता है.

दरअसल, विधान परिषद में 24 सदस्य चुने जाते हैं और हर दो साल में आठ सदस्यों को निर्वाचित किया जाता है, लेकिन 2021 में सीटें कैसे भरी जाएंगी ये भी तय नहीं हो पाया है. अभी तक माना जा रहा था कि बिहार पंचायत चुनावों के साथ विधान परिषदों के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. पिछले पंचायत चुनाव के बाद विधान परिषद के चुनाव संपन्न हुए थे, जिनका कार्यकाल आने वाली 16 जुलाई को खत्म होने वाला है. 

ऐसे में अगर पंचायत चुनाव टलते हैं तो सत्ताधारी दल को नुकसान उठाना पड़ सकता है, क्योंकि दो महीने बाद विधान परिषद में बीजेपी के सदस्यों की संख्या आधी हो जाएगी, क्योंकि अगर विधान परिषद के चुनाव समय पर नहीं हुए तो बीजेपी के पास अभी 26 सीटें हैं, जो घटकार 14 हो जाएंगी. वहीं बीजेपी के दरभंगा से एमएलसी सुनील कुमार का निधन हो गया था हालांकि चुनाव टलने पर विपक्षी दल राजद को कोई फर्क नहीं पड़ेगा, बल्कि राजद और मजबूत हो जाएगी.


Leave Comments