liveindia.news

Corona का कहर, पूर्व शिक्षा मंत्री का निधन

पूरे देश में कोरोना से हाहाकार मचा हुआ है. चारों ओर कोरोना संक्रमण से मौतों का सिलसिला जारी है. इसी बीच बिहार से एक बड़ी खबर सामने आई है. बिहार के पूर्व शिक्षा मंत्री और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी मेवालाल चौधरी का कोरोना से निधन हो गया है. जेडीयू विधायक मेवालाल चौधरी तीन दिनों पहले कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. जिसके बाद उन्हें राजधानी पटना के पारस अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.

बता दें कि मेवालाल चौधरी पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में बिहार की तारापुर सीट से विधायक चुने गए थे. नीतीश सरकार ने उन्हें मंत्रिमंडल में भी शामिल किया था, लेकिन वो बिहार सरकार में एक दिन के लिए ही शिक्षा मंत्री रह पाए. मेवालाल चौधरी नीतीश कुमार के करीबी माने जाते हैं. मेवालाल चौधरी के निधन पर जेडीयू के नेताओं ने शोक व्यक्त किया है. बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने मेवालाल चौधरी के निधन पर कहा है कि 'उनके निधन पर मुझे काफी दुख हुआ वो एक अच्छे और नेक इंसान थे.

मेवालाल चौधरी का राजनैतिक सफर

मेवालाल चौधरी बिहार की राजनीति का बड़ा चेहरा माने जाते थे. मेवालाल तारापुर के कमरगांव के रहने वाले थे. चौधरी राजनीति में आने से पहले 2015 में भागलपुर यूनिवर्सिटी के कुलपति भी रहे. कुलपति के पद से सेवानिवृत होने के बाद उन्होंने नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के टिकट से तारापुर सीट से चुनाव लड़ा और जीते भी, लेकिन मेवालाल चौधरी पर भागलपुर यूनिवर्सिटी में नियुक्ति के घोटाले के आरोप लगे उनपर मुकदमा भी दायर हुआ. वहीं मेवालाल चौधरी की पत्नी नीता चौधरी भी बिहार की राजनीति में सक्रिय रहीं. नीता चौधरी तारापुर सीट से विधायक भी रहीं, लेकिन साल 2019 में गैस सिलेंडर में आग लगने से उनकी मौत हो गई थी. घटना में मेवालाल चौधरी भी बालबाल बचे थे.


Leave Comments