दर्दनाक दृश्य : एक चिता पर पति-पत्नी बगल में बेटे को दफनाया

पूरे देश में कोरोना के कहर ने लोगों की हालत खबर करके रखी है. कोरोना महामारी के मामले तो कम हो गए लेकिन मौतों का आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है. कोरोना के चलते परिवार के परिवार तबहा हो रहे है. यूपी में तो एक ही परिवार के 7 लोगों की मौत होने के बाद 5 लोगों की एक साथ तेहरवीं का दृश्य लोगों के दिमाग से नहीं निकला की, बिहार से दिल दहला देने वाला मंजर सामने आया है.

बिहार के गुरारू थाना के डीहा गांव में एक पति पत्नी के की चिता एक साथ जलाई गई. लोगों के आंसू तो तब निकल आए जब बगल में उनके बेटे के शव को दफनाया गया. ऐसे बेहद ही मार्मिक समय में ऐसे नजारा देखकर हर शख्स रो पड़ा. जानकारी के अनुसार आर्मी जवान अपनी पत्नी और जवान बेटे की एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी. हादसे के बाद पति-पत्नि और बेटे का अंतिम संस्कार किया गया तो, हर शख्स की आंखों में आंसू थे. क्योंकि दृश्य ऐसा था की आंसू निकलना लाजमी था. पति-पत्नी का अंमित संस्कार किया गया तो वही बच्चे के शव को बगल में ही दफनाया गया. 

आर्मी जवान का अंतिम संस्कार करने से पहले उनके शव को आर्मी कैंप लाया गया, जहां उन्हें आर्मी के जवानों ने श्रद्धांजलि दी. जिसके बाद उनके शव को तिरंगा में लपेट कर कोसडीहरा लाया गया और नम आंखोें के साथ देश के लाल को अंमित विदाई दी गई. पति पत्नी को उनके भतीजें ने मुखग्नि दी. जबकि बच्चे के शव को कुछ ही दूरी पर नदी के पास दफनाया गया. बता दें कि आर्मी जवान की कार रविवार को कैमूर के दुर्गावती के पास गिट्टी से भरा ट्रक कार पर पलट गया था, जिसमें पति पत्नी समेत बच्चे की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी.


Leave Comments