liveindia.news

रिंकिया के पापा का बिहार में चुनाव प्रचार, क्या बिहार में होगा दिल्ली जैसा हाल?

बिहार में का बा और बिहार में ई बा की जंग के बीच अब बिहार में रिंकिया के पापा बा. रिंकिया के पापा यानि कि मनोज तिवारी अब बिहार में हैं. दिल्ली के विधानसभा चुनाव में बीजेपी की लुटिया डुबोने के बाद अब मनोज बिहार पहुंच चुके हैं. क्या पूछा कब लुटिया डुबोई. क्या पिछले दिनों हुए दिल्ली के विधानसभा चुनाव भूल गए आप. मनोज तिवारी उस वक्त दिल्ली चुनाव का चेहरा न सही पर उन्हीं कांधे पर दिल्ली चुनाव में बीजेपी की नैया पार लगाने की जिम्मेदारी थी. बस बीजेपी से यही चूक हो गई. उन्हें लगा कि जो आदमी रिंकिया का पापा बन कर उत्तरप्रदेश और बिहार का दिल जीत सकता है वो दिल्ली फतेह भी कर ही लेगा. पर यही रिंकिया के पापा बीजेपी के गले की फांस बन गए.

उस वक्त आप पार्टी के सीएम पद के चेहरे और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मनोज तिवारी के नाम पर रिंकिया के पापा सुना देते. और अपील भी करते की ये गाना जरूर देखे. दिल्ली की पढ़े लिखे, हाई क्लास मॉर्डन वोटर बीजेपी के बड़े नेता का ये मजाकिया अंदाज पचा नहीं पाए. अब लगता है दिल्ली में रिंकिया के पापा की हालत देखकर बीजेपी ने कोई सबक नहीं लिया. और भेज दिया.

मनोज तिवारी को चुनाव प्रचार के लिए दिल्ली. पर ये भूल गई कि उन्हें रिंकिया के पापा बनाकर खिल्ली उड़ाने का मंत्र देने वाले प्रशांत किशोर पहले से ही बिहार में हैं. अब डर है कि प्रशांत किशोर के बताए रास्ते पर चलकर जैसे अरविंद केजरीवाल ने रिंकिया के पापा को घर बिठा दिया. कहीं वही नजारा बिहार में भी देखने को न मिले. कहने का मतलब ये कि कहीं रिंकिया के पापा की वजह से बीजेपी का पत्ता न कट जाए.


Leave Comments