liveindia.news

सावन के महीने रखे इस बात का ध्यान, होंगी पूरी मनोकामनाएं

सावन के महीने रखे इस बात का ध्यान, होंगी पूरी मनोकामनाएं

इस साल सावन का महीना 25 जुलाई से शुरू हो रहा है. इस महीने में भगवान शिव की पूजा की जाती है और यह महीना शिव जी के लिए समर्पित होता है. सावन के महीने में सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करना बहुत ही अच्छा माना जाता है और इससे भगवान का आशीर्वाद मिलता है. कहा जाता है कि जो भक्त सावन सोमवार का व्रत रखते हैं उन्हें शिव जी का आशीर्वाद मिलता है. इस बार सावन सोमवार 25 जुलाई से शुरू होगा और 22 अगस्त तक चलेगा. सावन सोमवार का व्रत रखना शिवजी को प्रसन्न करने के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है.

हिंदू कैलेंडर के हिसाब से आषाढ़ का महीना 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है और उस दिन गुरु पूर्णिमा का पर्व भी है. फिर उसके अगले ही दिन यानी 25 जुलाई से श्रावण का महीना शुरू हो जाएगा और इसके अगले ही दिन यानी 26 जुलाई को पहला सोमवार है. हिंदू कैलेंडर के मुताबिक ’श्रावण मास को पांचवा महीना माना जाता है.

सावन में शिव जी की पूजा का महत्व

कहा जाता है कि सावन के महीने में भगवान शिव जी की पूजा विशेष तरीके से करनी चाहिए. इस महीने में अगर हम भगवान शिव की पूजा करते हैं तो हमें भगवान शिव जी का आशीर्वाद मिलता है और वह फलदाई होता है. कहा जाता है कि इस महीने में धार्मिक कार्य करने से सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है और मन को शांति मिलती है. सावन की पूजा करने से शिव जी की कृपा बनी रहती है और भक्तों की परेशानियां भी दूर होती हैं. सावन सोमवार के व्रत रखने से भगवान शिव जी का आशीर्वाद मिलता है और भगवान शिव की कृपा भक्तों के ऊपर बनी रहती है.

कैसे करनी है भगवान की पूजा

सुबह जल्दी उठकर स्नान करें इसके बाद भगवान शिव का जलाभिषेक करें साथ ही मां पार्वती और नंदी को गंगा जल या दूध चढ़ाएं. भगवान शिव जी का पंचामृत से रुद्राभिषेक करें और बेलपत्र चढ़ाएं. चंदन, चावल, भांग, धतूरा, चढ़ाएं और शिव परिवार को तिलक लगाएं. गणेश जी की आरती धूप और दीप के साथ करें अंत में भगवान शिव जी की आरती उतारे. भगवान शिव को घी और शक्कर प्रसाद के रूप में चढ़ाएं.


Leave Comments