liveindia.news

आज है साल की आखिरी पूर्णिमा, भूल कर भी ना करें यह काम

धर्म डेस्क : साल 2020 खत्म होने को है और एक दिन बाद से नया साल शुरू होने वाला है. नया साल शुरू होने से पहले ही आज यानी की 30 दिसंबर को साल की आखिरी पूर्णिमा है. साल के आखिर में पड़ने वाली यह पूर्णिमा काफी महत्वपूर्ण है. इस पूर्णिमा को मार्गशीष पूर्णिमा भी कहा जाता है. पूर्णिमा के दिन शुभ मुहूर्त में कुछ कार्यों के करने पर मनाही होती है, आइये हम आपको बताते हैं पूर्णिमा के दिन किन कामों को करने से बचना चाहिए. 

आपको बता दें कि, इस वर्ष 29 दिसंबर की शाम 7 बजकर 50 मिनट से 30 दिसंबर कि रात 9 बजे तक इस पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त है. पूर्णिमा में भगवान सत्यनारायण की पूजा की जानी चाहिए. जिनका चंद्र कमजोर होता है उन्हें विशेष तौर पर इस दिन चंद्रमा की पूजा करनी चाहिए. इस दिन अगर कहीं पूजा स्थल पर जाना संभव ना हो तो आप घर में ही गंगजल से स्नान करें. स्नान के वक़्त सूर्य मन्त्र का जाप करें. स्नान के बाद सूर्य भगवान का पाठ करें. 

इन कामों करने से बचें 

पूर्णिमा का दिन काफी शुभ होता है इसलिए इस दिन आप कोई भी बुरा काम या फिर झूठ बोलने से बचें. 
जितना हो सके गरीबों में भोज कराएं या फिर दान करें 
प्याज लहसुन या किसी प्रकार के नॉनवेज इस दिन खाने से बचें.
आपका चंद्र कमजोर है तो पूर्णिमा की रात चंद्र को अर्घ्य जरूर दें


Leave Comments