liveindia.news

गुप्त नवरात्रि आज से प्रारंभ, भूलकर भी ना करें यह गलतियां

धर्म डेस्क : हिन्दू धर्म में साल में चार बार नवरात्रि आती है. जिनमे से शारदीय नवरात्र और  चैत्र नवरात्र तो काफी प्रसिद्ध हैं, जिन्हे सभी मनाते हैं. लेकिन दो गुप्त नवरात्र भी होते हैं, जिनके बारे में बेहद ही कम लोगों को जानकारी होती है. माघ और आषाढ़ के महीने में आने वाली इन नवरात्री का भी अपना अलग महत्त्व होता है. हिन्दू पंचांग के अनुसार, माघ महीने की गुप्त नवरात्री 12 फरवरी से शुरू हो रही है जो की 21 फरवरी को समाप्त होगी. 

इस बार 10  दिन की है नवरात्रि 

 इस बार माघ माह की गुप्त नवरात्रि 9 नहीं बल्कि 10 दिनों की है क्योंकि षष्ठी तिथि 2 दिन है. गुप्त नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के 9 रूपों के साथ ही उनकी 10 महाविद्याओं की भी पूजा होती है. इस नवरात्र में मां दुर्गा की पूजा जोर शोर से नहीं बल्कि गुप्त तरीकों से की जाती है. ऐसे मान्यता है कि, गुप्त नवरात्र में मां दुर्गा कि पूजा जितनी गुप्त रूप से होती है, व्यक्ति को उतना ही ज़्यादा इस पूजा का फल मिलता है. 

इन गलतियों को करे से बचें

  • मां दुर्गा की पूजा करने वाले व्यक्ति को चमड़े से बनी किसी भी चीज़ का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. 
  • इस दौरान काले रंग के वस्त्र भी धारण ना करें 
  • पशुओं को ना ही कष्ट दें और ना ही मास -मदिरा का सेवन करें. 
  • नवरात्र में आप बाल कटवाने से बचें. 
  • मां दुर्गा की विधि विधान से पूजा करें पर गुप्त तरीके से. 

 


Leave Comments