liveindia.news

आज संकष्टी चतुर्थी पर इस तरह करें पूजा, हर मनोकामना होगी पूरी

हिन्दू धर्म में किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले हमेशा ही भगवान गणेश जी की पूजा अर्चना की जाती है. इस समय श्रावण मास प्रारंभ हो चुका है, और आज श्रावण मास की संकष्टी चतुर्थी है. इस चतुर्थी पर भगवान गणेश जी की पूजा करने का बहुत अधिक महत्व माना जाता है. भगवान गणेश बल और बुद्धि के देवता हैं, अगर आज की चतुर्थी पर गणेश भगवान की सच्चे मन से पूजा की जाए तो वो अपने भक्तों के सभी दुःख दर्द दूर करते हैं. 

हमारे शास्त्रों में संकष्टी चतुर्थी का अर्थ बताया गया है की यह चतुर्थी सभी संकटों को हराने वाली होती है. इस चतुर्थी पर भगवान गणपति की पूजा अर्चना करके विशेष वरदान प्राप्त किया जाता है. इस दिन पूजा पाठ करने का एक विशेष तरीका बताया गया है. आइये आपको बताते हैं की किस तरह पूजा करके आप भी मन चाहा फल प्राप्त कर सकते हैं. 

इस तरह करें पूजा 
संकष्टी चतुर्थी पर आप सुबह जल्दी उठ कर स्नान करें, लाल या पीले रंग के वस्त्र धारण करें.

अब भगवान गणपति की तस्वीर को लाल कपड़ा बिछाकर उसके ऊपर रख दें.

भगवान की तस्वीर पर गंगाजल छिड़क कर, उन्हें गुलाब के फूलों से सजाएं.

अब भगवान को शुद्ध घी का दीपक लगाएं. 

साथ ही भोग में मोदक, तिल-गुड़ के लड्डू, चढ़ाएं. 

इसके साथ ही आप इच्छा स्वरुप फल पाने के लिए गणपति भगवान को 21 हरी दूबा की पत्तियां एक लाल कलावे से बांधकर चढ़ाएं. अगले 11 दिन तक ऐसा ही करें और देखें आपको इच्छा स्वरुप फल ज़रूर मिलेगा. 

 


Leave Comments