liveindia.news

भगवान शनि के कौवों की मौत से मिल रहे बड़े संकट के संकेत!

साल 2021 की शुरूआत हो चुकी है, लेकिन नए साल के महज 10 दिन ही गुजरे है की विश्व भर में पक्षियों की मौतों ने लोगों को संकट में लाकर खड़ा कर दिया है. भारत सहित दुनियाभर के देशों में पक्षियों की मौत खास कर कौवों की मौतों से किसी बड़े संकट के संकेत मिल रहे है. हालांकी की कौवों की मौतों को एक तरफ से बर्ड फ्लू के तौर पर देखा जा रहा है, लेकिन सनातन धर्म और ज्योतिषों के नजरिए से देखा जाए तो यह अपशकुन है. यह घटनाएं भविष्य में होने वाली घटनाओं के संकेत दे रही है.

शकुन शास्त्र के अनुसार भी पक्षियों की अचानक मौत बुरे संकेत देता है. लेकिन सनातनी परंपरा और ज्योतिष इसे अलग ही नजरिये से देख रहा है. ज्योतिष के मुताबिक देखें तो यह समय एक तरह का संक्रमण काल है. दरअसल, कौवा भगवान शनि का वाहन है. भगवान शनि न्याय के देवता माने जाते है, लेकिन वह क्रोधी  स्वभाव के है. क्योंकि वह केवल अन्याय होने पर क्रोध करते है. ऐसे में कौवों की मौत होना शनि कई संकेत देते है.

ज्योतिषों के अनुसार कौवों की अचानक मौत होना, कई तरह की आपदाएं, मौसम में परिवर्तन, फसलों को नुकसान प्राकृतिक हलचल जैसे संकेत देता है. वही उत्तर पश्चिमी राज्यों में भारी बर्फबारी, तूफान, भूकंप के झटके, ओलों से फसलों को नुकसान होने की आशंका भी जाताई जा रही है. भगवान शनिदेव का वाहन कौवा नए रोगों की ओर भी इशारा करता है.


Leave Comments