liveindia.news

दुश्मनों को परास्त करने के लिए करें इस देवी की पूजा

आज के युग में हर सफल मनुष्य के ढेर सारे दुश्मन होते हैं. ये दुशमन आपकी सफलता में हमेशा विघ्न डालने की कोशिशें करते हैं. ऐसे में अगर आप इन दुश्मनो से हमेशा के लिए छुटकारा चाहते हैं, तो आप माँ बगलामुखी की पूजा करें. माँ बगलामुखी को पीताम्बरा ब्रह्मास्त्र भी कहा गया है. ऐसी मान्यता है की जो भी भक्त माँ बगलामुखी की पूजा और आरती का गायन करता है उस मनुष्य पर कभी किसी शत्रु की छाया भी नहीं पड़ती. माता हमेशा शत्रुओं से रक्षा करती हैं.

माँ भगलामुखी  से कभी भी शत्रु के नाश की प्रार्थना नहीं करनी चाहिए, हमेशा खुद के शत्रुओं से बचाव की कामना करनी चाहिए. माता की पूजा में पीले रंग का विशेष महत्व होता है इसलिए हमेशा पीले रंग के फूल, माला, प्रसाद, वस्त्र , आसान आदि ही रखें. 

माँ बगलामुखी को ऐसे करें प्रसन्न  
माँ की पूजा हमेशा किसी गुरु के निर्देश में ही करें. पूजा में जाप के लिए हल्दी की माला का ही उपयोग करें. माता की पूजन हमेशा रात में करें या फिर शाम में. माँ से हमेशा खुद के बचाव के लिए प्रार्थना करें.

माता की पूजा जो भी करे वो अपनी उम्र के बराबर की साबुत हल्दी की गाँठ माता को चढ़ाएं. माता के सामने हमेशा घी का दीपक ही जलाएं. पूजा के समय माँ के 108 नामों का जानप करें. 

ध्यान रखें की माँ की पूजा हमेशा गलत कामों से बचने के लिए करें, ना की गलत काम करने के लिए. गलत इच्छा से पूजा करने पर परिणाम विपरीत मिलेंगे.

 


Leave Comments