liveindia.news

Gujarat की 25 साल की सियासत में बड़ा बदलाव!

गुजरात की 25 साल की सियासत में कुछ समय के लिए बड़ा बदलाव देखने को मिला. गुजरात विधानसभा में कांग्रेस पार्टी विपक्ष की भूमिका में है, लेकिन कांग्रेस पार्टी के एक विधायक को कुछ समय के लिए स्पीकर की जिम्मेदारी सौंपी गई. गुजरात कांग्रेस से विधायक अनिल जोशीयारा को एक घंटे से अधिक समय के लिए सदन में स्पीकर की जिम्मेदारी सौंपी गई. गुजरात में 25 सालों में ऐसा पहली बार हुआ है, जब किसी विपक्ष के नेता को स्पीकर की जिम्मेदारी सौंपी गई हो.

शुक्रवार को गुजरात विधानसभा में विधानसभा स्पीकर राजेंद्र त्रिवेदी की अनुपस्थिति में गुजरात की भिलोदा विधानसभा से कांग्रेस के विधायक जोशीयारा को कुछ समय के लिए विधानसभा की जिम्मेदारी सौंपी गई, उन्हें कुछ समय के लिए अस्थायी स्पीकर बनाया गया हालांकि विधानसभा के नियमों के अनुसार अगर विधानसभा का स्पीकर किसी कारणों के चलते सदन में मौजूद नहीं होता है तो सदन की कार्यवाही को आगे बढ़ाने के लिए प्रोटेम स्पीकर के पैनल में से किसी एक सदस्य को स्पीकर की जिम्मेदारी दी जाती है. गुजरात विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर के पैनल में वर्तमान में बीजेपी विधायक निमाबेन, पुर्नेश मोदी, दुष्यंत पटेल और कांग्रेस विधायक अनिल जोशीयारा हैं. 

जोशीयारा को इसलिए दी गई सदन की जिम्मेदारी

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को सदन की कार्यवाही के दौरान विधानसभा स्पीकर और प्रोटेम स्पीकर सदन में मौजूद नहीं थे. वहीं प्रोटेम स्पीकर के पैनल के सदस्य भी सदन में अनुपस्थित थे, केवल कांग्रेस नेता अनिल जोशीयारा ही सदन में मौजूद रहे. इसलिए अनिल जोशियारा को सदन की कार्यवाही आगे बढ़ाने के लिए जिम्मेदारी सौंपी गई, क्योंकि सदन के पास अन्य कोई विकल्प नहीं था.


Leave Comments