liveindia.news

पटेल बने मुख्यमंत्री, मोदी-शाह की सोची समझी रणनीति

पटेल बने मुख्यमंत्री, मोदी-शाह की सोची समझी रणनीति

गुजरात के नए मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. गुजरात के गांधीनगर में स्थित राजभवन में शपथ ग्रहण का आयोजन किया गया, जहां राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने भपेन्द्र पटेल को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. शपथ ग्रहण समारोह में गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे. इसके अलावा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए. वही दो दिन बाद नई सरकार के मंत्रिमंडल का गठन किया जाएगा. बीते रविवार को विधायक दल की बैठक में भूपेन्द्र पटेल को विधायक दल का नेता चुना गया था.

सीएम पटेल ने कही बड़ी बात 

विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद सीएम भूपेन्द्र पटेल ने कहा था कि में पीएम मोदी, अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा जी का आभार व्यक्त करता हूं, जो उन्होंने मुझपर विश्वास दिखाया. में और हम सब मिलकर गुजरात को आगे बढ़ाने का काम करेंगे. में संगठन और सरकार को आगे लेकर चलूंगा. सभी मिलकर विकास कार्य करेंगे.

मोदी-शाह की सोची समझी रणनीति 

बता दें कि गुजरात में बीजेपी ने 5 साल बाद किसी पाटीदार नेता को सीएम पद की समान सौंपी है. जानकारों का मानना है कि अगले विधानसभा चुनावों को देखते हुए यह पीएम मोदी और शाह की सोची समझी रणनीति का हिस्सा हो सकती है. बीजेपी राज्य के पाटीदार समुदाय को खुश करना चाहती है, इसलिए पाटीदार समुदाय से आने वाले भूपेन्द्र पटेल को राज्य का सीएम बनाया गया है. क्योंकि गुजरात में पाटीदार समुदाय धन-बल दोनों से ताकतवर है. बीजेपी अब अगला चुनाव भूपेंद्र पटेल के नेतृत्व में लड़ेगी. यह भी बता दें कि राज्‍य में 70 से ज्‍यादा सीटे पाटीदार समुदाय तय करता है.

कौन है भूपेन्द्र पटेल

पटेल रूपाणी के करीबी माने जाते है. भूपेन्द्र पटेल गुजरात बीजेपी के बड़े चहरों में से एक है. वह गुजरात की घाटलोडिया सीट से बीजेपी के विधायक है. पटेल गुजरात में सबसे ज्याद मतों से विजय होने वाले विधायक है. वह एक लाख से अधिक वोटों से जीते थे, उन्होंने कांग्रेस के शशिकांत पटेल को हराया था. पटेल अहमदाबाद शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. शिक्षा की बात करे तो पटेल ने गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक अहमदाबाद से सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है. पटेल पाटीदार समुदाय से ताल्लुक रखते हैं. वह नेता के अलावा बिल्डर भी है. भूपेंद्र पटेल का जन्म 15 जुलाई 1962 को गुजरात के अहमदाबाद में हुआ था. वह 2017 में पहली बार ही विधायक चुने गए थे.

बता दें कि विजय रुपाणी ने बीते शनिवार को अपने पद से इस्तीफ दे दिया था. रूपाणी 2016 में पहली बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे. रूपाणी ने 7 अगस्त 2016 को सीएम पद की शपथ ली थी. 2017 के विधानसभा चुनावों में रुपाणी के नेतृत्व में ही भाजपा की सरकार फिर सत्ता में आई थी. हालांकि पिछले चुनावों के मुकाबले सीटें कम आई थी, लेकिन बीजेपी ने पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाई थी. 


Leave Comments