liveindia.news

नहीं निकलेगा किसान आंदोलन का हल, किसान नेता ने उठाया बड़ा कदम

नेशनल डेस्क : केन्द्र सरकार की तरफ से लाए गए तीन कृषि सुधार संबंधी कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन जारी है. किसानों के हितों में सोचते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कृषि कानून पर अंतिरम रोक लगाते हुए, एक कमेटी बनाने का फैसला लिया था. लेकिन अब इस पैनल से पूर्व सांसद और भारतीय कृषि संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष भूपिन्दर सिंह ने खुद को अलग कर लिया है. जिसकी वजह बह उन्होंने बताई है. 

81 वर्षीय भूपिन्दर सिंह मान का सुप्रीम कोर्ट की तरफ से गठित पैनल में नाम शामिल किए जाने के बाद किसान संगठनों में भी विवाद हो गया था. एक बयान जारी कर मान ने कहा- "केन्द्र सरकार की तरफ से लाए गए तीन कृषि कानूनों पर किसान संगठनों के साथ बातचीत शुरू करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया की तरफ से मुझे नॉमिनेट करने के लिए मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं."

उन्होंने आगे कहा- खुद को एक किसान और संगठन नेता के तौर पर किसान संगठनों और आम लोगों में धारणाओं को देखते हुए मैं अपने उस ऑफर को त्याग करने को तैयार हूं जो मुझे दिया गया है क्योंकि पंजाब और देश के किसानों के हितों के साथ समझौता नहीं कर सकता हूं. मैं पैनल से अपने आपको हटाता हूं और हमेशा किसानों और पंजाब के साथ खड़ा रहूंगा.


Leave Comments