liveindia.news

कोरोना काल में मोदी खाते है यह पराठा, इसलिए रहते है फिट

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज फिट इंडिया मूवमेंट के एक साल पूरे होने के मौके पर देश की कई हस्तियों से ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस के जरिए बात की. इस दौरान टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली, देवेंद्र झाझरिया भी मौजूद रहे. साथ ही ऐक्टर मिलिंद सोमन, रुजुता दिवेकर ने भी ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस में भाग लिया. पीएम मोदी ने ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस के दौरान अपनी फिटनेस का राज खोलते हुए कहा की वह मोरिंगा पराठे खाते है. उन्होंन इस खास पराठे की रेसिपी के बारे में भी बताया, साथ ही पीएम मोदी ने कहा की वह फिट रहने के लिए मोरिंगा जो की सहजन के पत्तों से बनता है के पराठे हफ्ते में दो बार खाते है. उन्होंने यह भी कहा की वह जल्द ही पब्लिक के लिए मोरिंगा पराठे की रेसिपी रखेंगे. 

फिट इंडिया मूवमेंट के तहत पीएम मोदी ने न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर से बातचीत करते हुए बताया की कोरोना काल के दौरान वह अपनी मां से मुश्किल में हफ्ते में 2 से 3 बार ही बता करने की कोशिश करते है, और जब भी मेरी मां से बात होती है तो वह पूछती है की हल्दी लेते हो या नहीं. वही रूजुता दिवेकर ने पीएम मोदी को बताया की वह इस दौरान सामान्य भोजन लेते है. क्योंकि सामान्य भोजन लेने से हम फिट रहते है और उसमें पोषक तत्व होते है. 

पीएम मोदी ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली से चर्चा करते कहा की आपका तो नाम ही विराट है और काम भी विराट है. पीएम मोदी ने विराट कोहली से चर्चा करते हुए मजाकिया अंदाज में कहा की आपकी फिटनेस की वजह से दिल्ली के छोले भटूरे को नुकसान हुआ होगा. वही पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया ने पीएम मोदी से चर्चा करते हुए बताया की एक हादसे में नौ साल की उम्र में उन्होंने अपने हाथ गंवा दिए थे, लेकिन मां के हौसले से उन्हें खेल की शुरूआत की. उन्होंने पीएम मोदी को बताया की वह रोजाना कंधे का व्यायाम करते है.

फिट इंडिया मूवमेंट की पहली वर्षगांठ के मौके पर पीएम मोदी ने देशवासियों को अपना शारीरिक फिटनेस और मानसिक फिटनेश को सही रखने की अपील की है. उन्होंने कहा हीै कि में देशवासियों के अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं. फिटनेस को लेकर लोगों की मानसिकता में बदलाव आया है.


Leave Comments