liveindia.news

कृष्ण जन्मभूमि मामले पर बिलबिला उठे ओवैसी

लगभग 500 साल के दांवपेंचों का सामना करते हुए अयोध्या में भगवान राम की नगरी में भगवान रामलला के भव्य मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी मंदिर निर्माण कार्य का भूमिपूजन भी कर चुके है, वही अब मथुरा और काशी में कृष्ण के शिव के मंदिरों को तोड़कर बनाई गई मस्जिदों को हटाने का आंदोलन तेज हो गया है. मथुरा कोर्ट में कृष्ण जन्मभूमि को लेकर एक याचिका दायर की गई है. जिसमें शाही ईदगाह मस्जिद को हटाकर श्रीकृष्ण जन्मभूमि को खाली कराने की मांग की गई है. इस याचिका को श्रीकृष्ण विराजमान की ओर से दाखिल किया गया है. 

मस्जिद हटाने की याचिका को लेकर भड़काऊ भाई जान के नाम से मशहूर मुस्लिमों का ठेकेदार मानने वाले असुद्दीन औवेसी भड़क उठे है. उन्होंने कहा है की शाही मस्जिद को किसी भी किमत पर नहीं हटने देंगे. उन्होंने कानूनी नियमों का हवाला देते हुए कहा है कि किसी भी पूजा के स्थल के परिवर्तन पर मनाही है. ऐसा नहीं किया जा सकता है. असुद्दीन औवेसी ने एक ट्वीट करते हुए लिखा है कि पूजा का स्थान अधिनियम 1991 पूजा स्थल में बदलने से मना करता है. गृह मंत्रालय को इस अधिनियम का प्रशासन सौंपा गया है, अदालत में इसकी प्रतिक्रिया क्या होगी? शाही ईदगाह ट्रस्ट और श्री कृष्ण जन्मस्थान सेवा संघ ने OCT 68 में अपने विवाद को हल किया. अब इसे पुनर्जीवित क्यों करें?

जानिए क्या कहा गया याचिका में 

दरसअल, मथुरा के सिविल कोर्ट में कृष्ण जन्मभूमि को लेकर फिर से याचिका दायर की गई है. इसमें पूरी की पूरी जमीन लेने की बात कही गई है. याचिका में कहा गया है की यह भूमि भगवान श्री कृष्ण की है, हिंदु समुदाय के लिए यह स्थान बहुत ही पवित्र है और उनकी आस्था का प्रतिक है. कृष्ण जन्मभूमि के वकील विष्णु जैन ने कहा है कि साल 1968 का समझौता गलत था और शाही ईदगाह मस्जिद को वहां से हटाया जाना चाहिए. याचिका में कहा गया है की भगवान श्रीकृष्ण का जन्म राज कंस के कारागार में हुआ था. इस पूरे क्षेत्र को कटरकेशव के नाम से जाना जाता है. याचिका में यह भी कहा गया है की मुगल शासक और औरंगजेब ने अपने शासन काल में कई हिंदू मंदिरों को तबाह किया और उनकी जगह मस्जिदें बना दी गई थी, जिसमें मथुरा का कृष्ण मंदिर भी शामिल था. यानी की साफ हो गया है की राम मंदिर आंदोलन के तर्ज पर अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि को लेकर आंदोलन तेज हो गया है.


Leave Comments