liveindia.news

फिर बचे दरिंदे, टलेगी फांसी?

बहुचर्चित निर्भया कांड के दोषियों की फांसी की सज़ा एक बार फिर टल सकती है.इस बार कारण हैं तलाक की सुनवाई,दरसल  निर्भया के दोषी अक्षय ठाकुर की पत्नी पुनीता की तलाक की अर्ज़ी पर 24 मार्च को औरंगाबाद में सुनवाई होना हैं.परिवार न्यायलय के न्यायधीश रामलाल शर्मा ने पुनीता को सशरीर उपस्थित होने को कहा है.

अब ऐसे में 24 मार्च को तलाक की सुनवाई के लिए फांसी की सजा 20 मार्च को दी जाएगी? और यदि अक्षय को फांसी नहीं दी जाएगी तो क्या बाकि सभी दोषियों की भी सज़ा टल जाएगी?अक्षय ठाकुर की पत्नी का कहना है की ,उसके पति को निर्भया के मामले में दोषी ठराया गया हैं,जिसकी सज़ा वो जेल में काट रहा हैं,कोर्ट के आदेश के अनुसार उसे फांसी दी जानी हैं.ऐसे में वो अपने पति की विधवा बनकर नहीं रहना चाहती.,इसलिए उसने तलाक माँगा है.


 

 


Leave Comments