liveindia.news

पेट्रोल-डीजल के खिलाफ राहुल का महासंग्राम शुरू

देश भर में पेट्रोल और डीजल के लगातार बढ़ते दामों ने देश की राजनीति में भूचाल ला दिया है. हालांकी रविवार को तेल की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं हुई, लेकिन सोमवार को फिर पेट्रोल और डीजल के दामों में बढोतरी हुई. जिसके बाद कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेट्रोल और डीजल और सरकार के खिलाफ एक अभियान शुरू किया है. राहुल गांधी ने लोगों से पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को लेकर उनके इस अभियान में शमिल होने की अपील की है. 

राहुल गांधी का हल्लाबोल

राहुल गांधी ने एक ट्वीट करते हुए कहा है कि आइये #speakupagainstfuelhike से जुड़ें. साथ ही राहुल ने एक वीडियो भी शेयर किया है. जिसमें कहा है की कोरोना और चीन संकट के बीच सरकार ने देश की जनता को उनके अपने हालातों पर छोड़ दिया है. वर्तमान में लोगों के पास रोजगार नहीं है और केंन्द्र सरकार लगाार पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाती जा रही है. राहुल गांधी की अपील के बाद देश के कई हिस्सों में कांग्रेसी सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतर आए है.

पेट्रोल और डीजल के कब से बढ़े दाम

बता दें कि देश में 7 जून से पेट्रोल और डीजल की कीमते बढ़ना शुरू हुई थी. देश में अबतक पेट्रोल के दामों में 9 रूपये 17 पैसे की बढ़तोरी हो चुकी है. वही डीजल में भी 11 रूपये 14 पैसों का इजाफा हो चुका है. सोमवार को दिल्ली में पेट्रोल 0.05 पैसे प्रति लीटर और डीजल 0.13 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार आज दिल्ली में पेट्रोल 80.43 प्रति लीटर, कोलकाता में 82.10 रूपये प्रति लीटर, मुंबई में पेट्रोल 87.19 रूपये प्रति लीटर और चेन्नई में पेट्रोल 83.63 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है. वही डीजल क्रमशः 80.53 रुपये, 75.64 रुपये, 78.83 रुपये और 77.72 रुपये मिल रहा है.

सोनिया लिख चुकी पीएम को चिट्ठी

राहुल गांधी के अभियान से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चिट्ठी लिखी थी, जिसमें उन्होंने कहा था की कोरोना काल और लाॅकडाउन के चलते लोगों की हालत खराब है. लोगों के पास रोजगार का संकट आ खड़ा हुआ है. ऐसे में सरकार द्वारा बढ़ाए हुए दाम उचित नहीं है. सरकार को बढ़े हुए दामों को तुरंत वापस लेना चाहिए.


Leave Comments