liveindia.news

महाराष्ट्र: शिवसेना ने BJP से मिलाया हाथ, कांग्रेस से तोड़ा गठबंधन?

देश की राजधानी दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित भारत बचाओं रैली के आयोजन के दौरान राहुल गांधी ने महाराष्ट्र की सियासत एक बार फिर गर्म कर दी है. रैली के दौरान राहुल गांधी ने शिवसेना के लिए हिन्दुत्व के हीरो सावरकर को लेकर रेप इन इंडिया के वाले बयान पर माफी नहीं मांगने और उनका नाम राहुल सावरकर नही राहुल गांधी है के उद्धबोधन से शिवसेना में उथलपुथल मच गई है.

राहुल ने रैली के दौरान कहा था की उनका नाम राहुल सावरकर नहीं है, राहुल गांधी है और वे मर जाएंगे पर कभी माफी नहीं मांगेंगे. राहुल के बयान के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि राहुल का बयान बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और सावरकर का बलिदान समझने के लिए राहुल को कांग्रेस नेता कुछ किताबें गिफ्ट करें. हम पंडित नेहरू, महात्मा गांधी को भी मानते हैं, आप वीर सावरकर का अपमान ना करें, बुद्धिमान लोगों को ज्यादा बताने की जरूरत नहीं होती. राउत ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा है कि अगर आज भी आप वीर सावरकर का नाम लेते हैं तो देश के युवा उत्तेजित और उद्वेलित हो जाते हैं, आज भी सावरकार देश के नायक हैं और आगे भी नायक बने रहेंगे, वीर सावरकर हमारे देश का गर्व हैं.

राजनैतिक गलियारों में कसाय लगाए जा रहे है की राहुल गांधी के सावरकर के बयान के बाद शिवसेना नाराज है. सावरकर को लेकर शिवसेना कांग्रेस के खिलाफ कोई बड़ा कदम उठा सकती है. यह भी माना जा रहा है कि शिवसेना हल्द ही बीजेपी से हाथ मिलाकर फिर से नई सरकार का गठन कर सकती है और शिवसेना कांग्रेस से अपना गठबंधन तोड़ सकती है.


Leave Comments