liveindia.news

व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पालिसी पर रोग लगाने की मांग

दिल्ली डेस्क : मशहूर मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप इन दिनों अपनी नई प्राइवेसी पालिसी को लेकर विवादों में बना हुआ है. वॉट्सएप की नई प्राइवेट पॉलिसी को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है. हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई है कि वॉट्सएप की नई पॉलिसी के तहत कंपनी को यह अधिकार है वह किसी भी व्यक्ति की निजी गतिविधि वर्चुअल तौर पर देख सके. दायर की गई याचिका में मांग की गई है कि, व्हाट्सएप की इन नई प्राइवेसी पालिसी पर तत्काल प्रभाव के साथ रक लगाई जाए. 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार,  हाई कोर्ट में दाखिल याचिका में यह भी कहा गया है कि यह किसी भी व्यक्ति के राइट टू प्राइवेसी के अधिकार का उल्लंघन है. यह याचिका वकील चैतन्या रोहिल्ला की तरफ से लगाई गई है जिसमें कहा गया है कि वॉट्सएप और फेसबुक जैसी कंपनियां पहले ही गैरकानूनी तरीके से आम लोगों का डाटा थर्ड पार्टी को शेयर कर रही हैं. ऐसे में वॉट्सएप की नई प्राइवेट पॉलिसी बिना सरकार से इजाजत लिए बनाई गई है.

आपको बता दें कि,अपनी नई प्राइवेसी पालिसी को लेकर व्हाट्सएप कंपनी द्वारा इस बात की सफाई दी जा चुकी है कि, कंपनी की  नई पॉलिसी से आम यूजर्स की प्राइवेसी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. हालांकि बिजनेस अकाउंट यूजर्स को इसका ज्यादा फर्क पड़ेगा. 


Leave Comments