liveindia.news

पहले में दूंगा भाषण, और भीड़ गए कांग्रेसी नेता

कांग्रेस का धरना प्रदर्शन उस समय रणक्षेत्र में तबदील हो गया, जब मजदूरों की मांगों को लेकर कांग्रेसी परियोजना कार्यालय में धरना देने पहुंचे थे. मजदूरों के हक में धरना देने पहुंचे, कांग्रेसियों को मजदूरों की आवाज को बुलंद करना था. लेकिन कांग्रेसियों ने अपनी ही आवाज बुलंद करते हुए अपने ही नेताओं से आपस में भीड़ गए. इतना ही नहीं कांग्रेसियों ने सरेआम गाली गलौज और मारपीट भी की जिसमें एक नेताजी घायल हो गए.

दरअसल, झारखंड के रामगढ़ में मजदूरों की मांगों को लेकर कांग्रेसी सीसीएल तोपा परियोजना कार्यालय में धरना देने पहुंचे थे. लेकिन कांग्रेसी पहले मैं, पहले मैं भाषण दूंगा को लेकर आपस में भीड़ गए. मामला इतना बढ़ गया की कांग्रेसियों के बीच जातिसूचक शब्दों के साथ गाली गलौज होने लगी और मारपीट पर उतारू हो गए. जिसमें कांग्रेसी नेता श्याम सिंह घायल हो गए. जिन्हें पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया है.

दोनों पक्षों ने पुलिस में प्राथमिकी दर्ज करने का आवेदन दिया है. आवेदन में दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर लात घूंसों और जाति सूचक गाली गलौज करने का आरोप लगाया है. बताया जा रहा है कि मांडू कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और कांग्रेस नेता श्याम सिंह ने भाषण का मौका नहीं मिलने पर आपत्ति जताई थी और नेताओं को भला बुरा कहा था. जिसके बाद कांग्रेस नेता श्याम सिंह पर गाली देने का आरोप लगाते हुए प्रदेश को-आर्डिनेटर शांतनु मिश्रा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष, पूर्व जिलाध्यक्ष सहित अन्य कांग्रेसी नेता मारपीट करने लगे. हालांकी कुछ कांग्रेसी नेताओं ने बीच में आकार मामला शांत करा दिया था.


Leave Comments