liveindia.news

कोरोना काल में यह कंपनी करने वाली है 15 हजार फ्रेशर्स की भर्ती

दुनिया वर्तमान में कोरोना संकट से जूझ रही है. कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते देश में ऐसे कई लोग है जो अपनी नौकरियों से हाथ धो बैठे है, तो कई कंपनियां कोरोना की मार से बंद हो चुकी है. देश में युवाओं के सामने अब नौकरी का संकट खड़ा हो गया है. लेकिन हाल ही में नौकरी पाने की इच्छा रखने वालों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है.

कोरोना वायरस की वजह से जहां कंपनियों की भर्ती प्रक्रिया प्रभावित हुई है. वहीं दुनिया की जानी मानी कंपनी HCL ने इस साल 15 हजार फ्रेशर्स की भर्ती करने का फैसला किया है. HCL कंपनी IT सर्विस कंपनी है. HCL टेक्नोलॉजीज ने अपनी भर्ती प्रक्रिया को वर्चुअल बना दिया है. कोरोना काल के दौर में कंपनी के सर्विस की मांग अच्छी होने के चलते HCL जल्द ही बड़ी तादाद में भर्ती प्रक्रिया शुरू करने वाली है. यह भर्तियां सीधे कैंपस से होंगी. HCL ने पिछले साल नौ हजार भर्तीयां की थी, लेकिन इस साल कोरोन संकट होने के बाबजूद 15 हजार फ्रेशर्स की भर्ती करने जा रही है. 

हालांकी खबरों के अनुसार बताया जा रहा है कि कंपनी यह भर्ती इसलिए कर रही है, क्योंकि कंपनी अपनी ग्रोथ को बढ़ाना चाहती है और कंपनी में नौकरियां छोड़ने की वजह से खाली पदों को भरना चाहती है. जानाकरी मिली है की कंपनी अप्रैल से जून तक करीब 1,000 फ्रेशर्स की भर्ती कर चुकी है. आपको यह भी बता दें की हाल ही में कंपनी के चेयरमैन शिव नाडर ने अपना पद छोड़ा था. अब उनकी जगह पर उनकी बेटी रोशनी नाडर मल्होत्रा कामकाज देख रही है.

12वीं पास की भी होगी भर्ती 

HCL कंपनी 12वीं पास छात्रों की भी भर्ती करती है, भर्ती करने के बाद कंपनी द्वारा 12वीं पास छात्रों को एक साल तक प्रशिक्षण दिया जाता है, जिसमें 9 महीने क्लासरूम ट्रेनिंग होती है. जिसके बाद कंपनी एक परीक्षा आयोजित करती है. जिसमें पास होने वाले छात्र बिट्स-पिलानी से इंजिनियरिंग करने के पात्र हो जाते हैं.


Leave Comments