liveindia.news

Corona काल में अपनों ने छोड़ा Shivraj का साथ, BJP विधायक ने ही उठाए सवाल

मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते, कोरोना के इलाज की दवा रेमडेसिविर की किल्लत भी होने लगी है और प्रदेश में ये किल्लत काफी समय से है. जिसकी उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए सरकार लगातार कदम उठा रही है. 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार दावे कर रहे हैं कि वो न सिर्फ रेमडेसिविर की बल्कि ऑक्सीजन सप्लाई की बनाए रखने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि सीएम ने ये भी बताया था कि 25 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन मध्यप्रदेश में आ चुके हैं.

पर इतनी कम मात्रा में इंजेक्शन कितने मरीजों के लिए पर्याप्त होंगे. आमतौर पर एक मरीज को छह रेमडेसिवीर की जरूरत पड़ती है. ऐसे में पच्चीस हजार इंजक्शन से कितनों का भला होगा अंदाजा लगाया जा सकता है. इसके अलावा सीएम ने ये इंतजाम भी करवाए हैं कि रेडक्रास को इंजक्शन की सप्लाई होगी. जहां 1568 रूपये प्रति इंजेक्शन जमा कर प्रायवेट अस्पताल दवा खरीद सकते हैं. 

लेकिन सीएम के इस फैसले पर खुद बीजेपी विधायक ने ही सवाल खड़े कर दिए हैं. बीजेपी विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने सीएम के इस फैसले पर सवाल उठाते हुए मांग की है कि सुनिश्चित किया जाए कि अस्पताल जितने पर इंजेक्शन खरीद रहे हैं, उतने पर ही मरीजों को उपलब्ध भी करवाए जाएं. सिसोदिया ने पत्र के माध्यम से कहा है कि सबसे पहले ये सुनिश्चित किया जाए कि जिन अस्पतालों को कोविड सेंटर बनाया गया है. सिर्फ वही इंजेक्शन खरीदें. साथ ही उन पर निगरानी भी रखी जाए ताकि निजी अस्पताल मनमाने दामों पर इंजेक्शन न बेचें. 

बता दें पिछले दिनों इंदौर में रेमडेसिविर की कालाबाजारी की खबरें भी आईं थीं. निजी अस्पतालों पर ये आरोप भी लगे कि वहां पांच से सात हजार में ये दवा बेची जा रही है. इसलिए बीजेपी विधायक ने ये सरकार को ताकीद किया है ताकि पीड़ितों को परेशान न होना पड़े.


Leave Comments