liveindia.news

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर लगे चोरी करने के आरोप

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर मुसीबत में आ गए है. सीएम शिवराज पर राजनीतिक आरोप नहीं, इस बार उनपर चोरी करने के आरोप लगे है. शिवराज सिंह पर बिरथरे नामक पत्रकार ने उनकी कविता चुराने के आरोप लगाए है. शिवराज सिंह चौहान ने अपने ससुर के निधन के बाद एक ट्वीट किया था. जिसमें ‘बाबुजी’ शीर्षक वाली एक कविता पोस्ट की थी. कविता के साथ उन्होंने बताया था की उनकी पत्नी साधना सिंह चौहान ने लिखी है. जिसके बाद भूमिका बिरथरे नामक एक मीडियाकर्मी ने शिवराज सिंह की पोस्ट की गई कविता उनकी अपनी रचना होने का दावा किया है. 

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने सुसर के निधन के बाद अपने ट्विटर पर एक कविता पोस्ट की थी. जिसमें उन्होंने कहा था की यह कविता उनकी पत्नी साधना सिंह ने अपने स्व. बाबू जी के पुण्य स्मरण पर लीखी है. साथ ही उन्होंने लिखा था की जिसके कंधे पर बैठकर घूमा करती थी, उसे कंधा देकर आयी हूं. जिसके बाद भूमिका बिरथरे नाम युवती ने जो अपने आप को पत्रकार बता रही है. ने मुख्यमंत्री को एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा की ‘सर भांजी हूं आपकी, मेरी कविता चुराकर आपको क्या मिलेगा? ये कविता मेरे द्वारा लिखी गयी है. उम्मीद है आप मेरे अधिकारों का हनन नहीं करेंगे, मामा तो अधिकारों की रक्षा के लिए हैं ना.’ चौहान को राज्य में मामा भी कहा जाता है. इतना ही नहीं भूमिका ने अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा की ‘प्रिय मामा जी, आपसे यह उम्मीद ना थी. एक मामा तो भांजी की कविता की भावनाओं को समझ सकता है ना... पर आपने तो उसे अपनी धर्मपत्नी के नाम से पोस्ट कर दिया. उम्मीद है कि आप अपनी गलती स्वीकार करें. 

सीएम शिवराज के इस मामले में पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने शिवराज पर तंज कसते हुए एक ट्वीट किया. जिसमें उन्होंने लिखा की बीजेपी नाम बदलने में माहिर है यह बात एक बार फिर उजागर हो गई, पहले कांग्रेस की योजनाओं के नाम बदलते थे, फिर शहरों के नाम बदलने लगे और अब तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी दूसरों की लिखी हुई कविताओं को भी अपनी धर्मपत्नी की लिखी हुई कविता बताने लगे है. वाह शिवराज जी वाह. आपकों बता दें की शिवराज सिंह चौहान के सुसर धनश्याम दास मसानी का निधन 19 नवंबर को हो गया था.


Leave Comments