liveindia.news

नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच शिवराज की मोदी से मुलाकात

नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच शिवराज की मोदी से मुलाकात

नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच शिवराज की मोदी से मुलाकात

मध्प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर दिल्ली जा रहे है. सीएम शिवराज दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करने वाले है. बीजेपी शासित राज्यों में मुख्यमंत्रियों को बदले के बाद शिवराज की यह मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है. शिवराज बीते दिनों पहले दिल्ली गए थे. जहां उनकी बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात हुई थी. इसके बाद अब फिर शिवराज दिल्ली में पीएम मोद से मुलाकात करने वाले है.

यह भी पढ़े - क्या दिग्विजय सिंह ने ले ली है कमलनाथ की जगह?
यह भी पढ़े - उमा के बाद BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दी धमकी

बताया जा रहा है दिल्ली में शिवराज पीएम मोदी से मुलाकात कर प्रदेश के विकास कार्यों और योजनाओं के बारे में चर्चा करेंगे. साथ ही संभावना जताई जा रही है कि राज्य में होने वाले उपचुनाव को लेकर भी पीएम मोदी से चर्चा हो सकती है. सीएम शिवराज आज गुरुवार 30 सितंबर को शाम 4 बजे पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे मुख्यमंत्री नीमच, रतलाम रेलवे लाइन को लेकर भी पीएम मोदी से चर्चा कर सकते है. इसके साथ ही डिजिटल हेल्थ कार्ड योजना भी पीएम और सीएम की मुलाकात का एजेंडा है.

यह भी पढ़े - क्या दिग्विजय सिंह ने ले ली है कमलनाथ की जगह?
यह भी पढ़े - उमा के बाद BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दी धमकी

बता दें कि चुनाव आयोग ने 14 राज्यों में होने वाले उपचुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है. चुनाव आयोग के अनुसार देश की तीन लोकसभा सीट और 30 विधानसभा सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव की वोटिंग होगी और परिणाम 2 नवंबर को आएंगे. नामांकन की प्रक्रिया 11 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी. 13 अक्टूबर को नाम वापसी के बाद 30 को मतदान होगा. 

यह भी पढ़े - क्या दिग्विजय सिंह ने ले ली है कमलनाथ की जगह?
यह भी पढ़े - उमा के बाद BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दी धमकी

इन तीन लोकसभा सीटों होगा उपचुनाव

देश की जिन तीन लोकसभा सीटों पर उपचुनाव होना है, उनमें से दादरा और नागर हवेली मध्यप्रदेश की खंडवा लोकसभा सीट और हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट पर उपचुनाव होना है. इसके अलावा मध्यप्रदेश, आंध्रप्रदेश, असम, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल सहित कुल 13 राज्यों की विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है. पश्चिम बंगाल में 4 सीटों पर, असम में पांच सीटों पर मध्यप्रदेश, मेघालय और हिमाचल प्रदेश में तीन सीटों पर, राजस्थान, कर्नाटक और बिहार की 2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होंगे.


Leave Comments