liveindia.news

जज की रहस्यमयी मौत: लव, सेक्स और आटे में सना सस्पेंस

ये कहानी है मध्यप्रदेश के एक जज की, जिसकी रहस्यमी परिस्थियों में मौत हो जाती है. जज के साथ-साथ उनके बडे बेटे भी रहस्यमी मौत की नींद सो जाते है. उसके बाद पूरा शहर जागता है कि आखिर ये क्यों और कैसे हुआ. जज जो पूरी दुनिया के लिए न्याय का बीड़ा उठाते है वो जज कैसे इस रहस्यमयी मौत का शिकार हुए. बड़ी बात ये है कि जज को उनके पूरे परिवार के साथ मौत की नींद सुलाने की साजिश थी, लेकिन कहते है कि ऊपर वाले के आगे किसी का जोर नहीं चलता. जज की पत्नी और छोटे बेटे इस साजिश का शिकार होने से बच गए. आइए सुनाते है किस्सा आपको कि क्या थी जज उनकी महिला मित्र और सहस्यमयी मौत.

कौन थे जज और कहा करते थे न्याय की रखवाली 

मध्यप्रदेश के एक छोटे से जिले बैतूल में जज महेंद्र त्रिपाठी की पोस्टिंग थी. महेंद्र त्रिपाठी और उनके बडे बेटे की अचानक तबीयत बिगडने पर उनको बैतूल के पास मिशनरी अस्पताल में एडमिट कराया. जज साहब की तबीयत का मामला था वो भी पहली नजर में संदिग्ध लग रहा था. मामला जिस तेजी से मीडिया की सुर्खिया बना, उसी तेजी से प्रशासन और पुलिस ने भी मैदान संभाल लिया. प्रारंभिक पडताल में जज महेेंद्र त्रिपाठी और उनके बेटे को फूड पाइजनिंग दिखाई दे रही थी. जबकि छोटे बेटे को केवल उल्टियां हुई और उसकी तबीयत ठीक हो गई. जज की पत्नी पूरी तरह से स्वास्थ्य थी. पुलिसिया जांच में पता चला कि जज महेंन्द्र त्रिपाठी और उनके परिवार के लोगों को आटे में मिलाकर जहर दिया गया है. उनकी पत्नी ने वो रोटियां नही खाई इसलिए स्वस्थय रहीं.

इलाज के दौरान जज साहब और उनके बेटे की हालत बिगड़ती जा रही थी. दोनों को नागपुर रेफर किया गया. नागपुर जाते समय बड़े बेटे की मौत हो गई, वहीं जज साहब की इलाज के दौरान मौत हो गई. लेकिन जज साहब के बेटे की मौत के बाद परेशान हुए और पुलिस को दे गए ऐसी राज की बात, जिससे पूरी साजिश का पर्दाफाश हुआ.

पुलिस ने कैसे किया पर्दाफाश

दरअसल, जज महेंद्र त्रिपाठी पहले घर पर ही रहकर इलाज ले रहे थे, लेकिन हालत बिगड़ी तो अस्पताल इलाज के लिए आए. इससे पहले जज महेंद्र त्रिपाठी किसी को बार-बार फोन करके पूछ रहे थे कि बताओं कौन सा जहर है हम एंटीडोज ले लेगे. लेकिन कोई जवाब नही मिला. 20 जुलाई को जहरीली रोटियां परिवार के लोगों ने खाई और 25 जुलाई को जज के बड़े बेटे ने दम तोड दिया और 26 को खुद जज महेंद्र त्रिपाठी मौत की नींद सो गए. पुलिस ने परिवार के लोगो से भी पूछताछ की तो पता चला कि जज साहब की जान-पहचना की एक महिला आटा लेकर आई थी, जिसकी रोटियां पूरे परिवार को खिलाना था. जज साहब की पत्नी इस तरह की चीजों पर भरोसा नही करती थी. जिसके चलते उनको छोड़ पूरे परिवार ने वो रोटियां खाई. जज के छोटे बेटे ने पुलिस को बताया कि ये महिला उनके पिता के साथ तकरीबन 15 सालो से जुड़ी है. जब वो सिंगरौली में जज थे, तब उनके संपर्क में आई थी. महिला का लगातार मिलना जुलना बना रहा जज  त्रिपाठी का परिवार इंदौर में रहता था और लाॅकडाउन के समय बैतूल आया था. पुलिस के मुताबिक इस दौरान महिला का जज से मिलना-जुलना कम रहा. जिसकों लेकर भी दोनों के बीच तनाव चल रहा था.

परिवार से पूछताछ के बाद पुलिस ने जज साहब के बताए राज पर काम करना शुरू कर दिया. मोबाइल लोकेशन के हिसाब से पुलिस ने तीन लोगों की गिरफ्तारी की और उनसे घंटो पूछताछ की. पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया और साजिश को किस तरह अंजाम दिया ये भी पुलिस को बताया. आरोपी महिला संध्या सिंह ने बताया कि वो लाॅकडाउन के चलते जज महेंद्र त्रिपाठी से नही मिल पा रही थी. इसे लेकर दोनों के बीच और परिवार में भी झगडें होने लगे. साथ ही जज महेंद्र त्रिपाठी और संध्या के बीच पैसों के लेन-देन को लेकर भी झगड़ा चल रहा था. इसी दौरान आरोपी महिला संध्या ने जज महेंद्र त्रिपाठी को कहा कि वो किसी तांत्रिक को जानती है, जिससे पूजा कराने पर वो परिवार में शामिल हो सकेगी और परिवार की कलह खत्म हो जाएगी. जज महेंद्र त्रिपाठी इस बात पर सहमत हो गए. आरोपी महिला संध्या 20 जुलाई को छिंदवाड़ा से बैतूल आई और आटा लेकर आई. महिला ने जज को बताया कि ये आटा तंत्र किया हुआ है और इसे खाने से सारी परेशानियों का हल निकल जाएगा. जिंदगी आसान हो जाएगी. आटे की रोटी बनाई गई. इस दौरान महिला बार-बार फोन करके जज को इस बात की कन्फरमेंशन ले रही थी कि खाने में आटा मिलाया गया है कि नहीं.

जज महेंद्र त्रिपाठी ने महिला मित्र पर भरोसा करते हुए आटें की रोटियां बनवाकर खाई, कुछ घंटे बाद उनकी और दोनों बेटों की तबीयत बिगडने लगी. छोटे बेटे की तबीयत उल्टियों के बाद ठीक हो गई, वहीं खुद जज महेंद्र त्रिपाठी और उनके बडे बेटे की मौत हो गई. पुलिस ने इस मामले में कुल छह आरोपियों को गिरफ्तार किया और अभी भी पूछताछ जारी है. पुलिस की माने तो आरोपियो की संख्या बढ़ भी सकती है.


Leave Comments