liveindia.news

रिटायर्ड IAS ने लगाए दिग्विजय-कमलनाथ पर गंभीर आरोप

मध्यप्रदेश के उपचुनाव में मिली हार के बाद प्रदेश कांग्रेस के मतभेद सतह पर आते जा रहे हैं. हार के लिए नेता एक दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं तो भीतराघात का आरोप भी लगा रहे हैं. कांग्रेस ने भी भीतराघातियों पर सख्त रवैया अख्तियार किया है. जिनके खिलाफ सबूत मिले हैं उन्हें पार्टी से निष्कासित भी कर दिया है. हालांकि सब नेता चुपचाप सारे इल्जाम स्वीकार कर लें ऐसा नहीं हैं. कांग्रेस में चल रही इस उठापटक के बीच एक पूर्व आईएएस ने दिग्विजय सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर ही गंभीर इल्जाम लगाए हैं.

ये पूर्व आईएएस हैं आजादसिंह डबास. जो अब तक कांग्रेस में शामिल थे. पर अब उन्हें निष्कासित कर दिया गया है. निष्कासन के बाद डबास ने दिग्विजय-कमलनाथ पर गंभीर आरोप लगाए हैं. डबास ने पार्टी उपाध्यक्ष और संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर को एक पत्र लिखा है. जिसमें अपने निष्कासन पर स्पष्टिकरण मांगा है. साथ ही चेतावनी दी है कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो वो पार्टी के बड़े नेताओं के कई राज से पर्दा उठा देंगे. डबास ने कहा है कि दिग्विजय-कमलनाथ जैसे नेताओं ने ही पार्टी बरबाद किया है. इतना ही नहीं डबास ने भ्रष्टाचार और पुत्रमोह जैसे आरोप भी लगाए हैं. डबास का दावा है कि कांग्रेस की 15 महीने की सरकार में जम कर भ्रष्टाचार हुआ इसलिए सरकार गिरी. दिग्विजय-कमलनाथ के बेटों को आड़े हाथों लेते हुए डबास ने कहा कि पुत्र मोह की वजह दोनों नेताओं ने पार्टी के हित को भी ताक पर रख दिया.

डबास ने ताकीद भी किया है कि अगर कांग्रेस में सही समय पर उचित बदलाव नहीं हुआ तो कांग्रेस 2023 तक विपक्ष में ही रहेगी और उसके बाद पचास का आंकड़ा पार करना भी मुश्किल हो जाएगा. फिलहाल डबास के इन आरोपों पर पार्टी के किसी बड़े नेता ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.


Leave Comments