liveindia.news

मुख्यमंत्री का बेटा बनकर ठगी, कई विधायक शिकार

मुख्यमंत्री का बेटा बनकर ठगी, कई विधायक शिकार

देशभर में ठगी के मामले तेजी से बढ़ने लगे है. ठग लोगों को अपना शिकार बनाने के लिए अनोखे तरीके निकाल रहे है. हाल ही एक अनोखा ठग राजस्थान से पकड़ाया है. गिरफ्तार हुए ठग ने ऐसा तरीका अपना की कई अधिकारी मंत्री समेत कई विधायक उसके जाल में फंस गए. इतना ही नहीं यह महाठग कभी एसपी, कभी विधाायक तो कभी मुख्यमंत्री का बेटा बनकर लोगों के साथ ठगी कर चुका है. ठग राजस्थान के 16 जिलों के लोगों को अपना शिकार बना चुका है. हाल ही में इस महाठग ने जयपुर में एसएचओ बनकर एक ज्वैलर्स से करीब 3 लाख 50 हजार रूपये ठग लिए. इस महाठग की कहानी सुनकर बॉलीवुड की फिल्म बंटी और बब्ली की याद आ गई, जिसमें रानी मुखर्जी और अभिषेक बच्चन मिलकर ताजमहल का ही सौदा कर देते है.

जेल में रहकर जेल अधिक्षक को ठगा

इस महाठग का नाम सुरेश घांची है. यह नटवरलाल राजस्थान के पाली जिले का रहने वाला है. जब इस महागठ की हिस्ट्री निकाली गई तो, वह हिस्ट्रीशीटर निकला. खास बात यह है कि की नटवरलाल सुरेश घांची जिसे भेराराम के नाम से भी जाना जाता है, केवल आठवीं पास है और वह लोगों की हुबहू आवाज निकालने में माहिर है. ये महाठग इतना माहिर है की एक बार जब वह जेल में बंद था तो, उसने जेल अधीक्षक की आवाज निकालकर 6 लाख रूपये ठग लिए थे और तो और ये इतना नटवरलाल है कि पुलिस अधिकारी बनकर पुलिस वालों से केस में फाइल जांच बदलवा लेता है. इस महाठग के खिलाफ 60 से ज्यादा ठगी के मामले दर्ज है. इस महाठग ने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को भी ठगने की कोशिश की थी. 

ज्वैलर्स से ठगे 3 लाख 50 हजार

यह महाठग राजस्थान सहित मध्यप्रदेश व गुजरात के विधायकों, पुलिस अधिकारियों को ठग चुका है. ये ठग कई बार पहले भी पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है, लेकिन जेल से निकलने के बाद फिर ठगी करने लगता है. बताया जा रहा है कि बीते 15 दिनों ये ठग जेल से छूटा था, लेकिन जेल से निकलते ही इसने जयपुर के एक ज्वैलर्स से 3 लाख 50 हजार रूपये अपने बैंक खाते में डलवा लिए थे. ठग का भंड़ा तब फूटा जब ज्वैलर्स ने रूपये वापस करने की मांग की. फिलहाल ये महागठ पुलिस की हिरासत में है. 

चितैड़गढ़ के विधायक से मांगे 10 लाख

इस महाठग नटवरलाल ने एक बार चितौड़गढ़ के विधायक चंद्रभान सिंह को एसपी बनाकर कॉल किया और 10 लाख रूपये की मांग की. ठग ने एसपी की आवज निकालकर विधायक से कहा की जयपुर में उनके एक रिश्तेदार भर्ती है. इलाज के लिए 10 लाख रूपए चाहिए. इसके बाद जब विधायक ने एसपी से रूपये कहा भेजने की बात पूछती तो पता चला की उन्होंने कोई फोन नहीं किया. इसके बाद पुलिस ने जाल बिछाकर सुरेश को गिरफ्तार कर लिया था.

CM का बेटा बनकर ठगी

नटवरलाल सुरेश ने एक बार राजस्थान के जोधपुर में एक ऑडी शोरूम के मालिक से सीएम गहलोत का बेटा बनकर ऑडीकार ठग ली. सुरेश ने शोरूम के मालिक को फोन करके कहा की में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बेटा वैभव बोल रहा हूं, मेरे परिचित शोरूम आ रहे है उन्हें एक ऑडी कार दे देना. इसके बाद सुरेश शोरूम से 50 लाख का चेक देकर गाड़ी ले गया. बाद में चेक बाउंस हो गया जब शोरूम मालिक ने वैभव गहलोत को फोन किया तो ठगी का मामला सामने आया. इससे पहले सुरेश ने पूर्व विधायक भीमराज भाटी के नाम पर दो कार की ठगी की थी.

कैलाश विजयवर्गीय के बेटे से मांगे 10 लाख

सुरेश ने मध्यप्रदेश के कद्दावर नेता और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश वियजवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय से ठगी करने की कोशिश की. ठग ने आकाश को इंदौर एसपी बनाकर फोन किया और बोला कि मेरे परिजनों को इलाज के लिए 10 लाख रुपयों की जरूरत है. इसके बाद जब मामले का खुलासा हुआ तो सुरेश को फिर पुलिस ने धरदबोंचा. 


Leave Comments