liveindia.news

कलंकित राज : जानिए कुंद्रा के सारे राज

कलंकित राज : जानिए कुंद्रा के सारे राज

मुंबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा को मुंबई क्राइम ब्रांच ने सोमवार को हिरासत में लिया है. कुंद्रा पर पोर्नोग्राफी से संबंधित कई सनसनीखेज आरोप लगे हैं. और अब राज कुंद्रा का एक व्हाट्सएप चैट भी सामने आया है. जिसमें वे अपने प्लान बी पर चर्चा कर रहे थे. मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक क्राइम ब्रांच के सूत्रों का मानना है कि कुंद्रा जल्द ही मॉडल और अभिनेत्रियों की लाइव स्ट्रीमिंग कराने वाले थे. ये स्ट्रीमिल बोलिफेम एप पर की जाने वाली थी. 

चैट में हुईं ये बातें 

कुंद्रा के पूर्व पीए उमेश कामत के मोबाइल की जांच जब क्राइम ब्रांच ने की तो उसमें कई खुलासे हुए. चैट में कामत को कुंद्रा ने एक न्यूज आर्टिकल भेजा, इसमें लिखा था. पुलिस पोर्न वीडियो 7 ओटीटी पर प्रसारित करने के मामले में 7 ओटिटी के मालिकों को समन भेज सकती है।’

व्हाट्सएप चैट में कुंद्रा कह रहे है, ‘बहुत बढ़िया हुआ की हमने बोलिफेम की तैयारी की।’ कामत ने कहा, ‘हम ऑफिस आकर बात करते हैं, हमें तब तक के लिए सारे बोल्ड कंटेंट निकाल देने चाहिए. उसके बाद कुंद्रा ने कहा, ‘मुझे शक है की वे लोग ऑल्ट बालाजी के कंटेंट निकालेंगे. फिर कामत कहते हैं, ‘यह इतना गम्भीर नहीं है. वे लोग सिर्फ ओबजेक्शनेवल कंटेंट को निकालने के लिए कहेंगे.’ कुंद्रा ये भी कहते हैं कि आने वाला भविष्य में लाइव कंटेंट का है क्यूंकि स्क्रीन रिकोर्डिंग सम्भव नहीं है.

अभिनेत्री शर्लिन चौपड़ा को मिलते थे 30 लाख 

इस पूरे मामले में पुलिस ने दावा किया है कि कुंद्रा ने यूके बेस्ड कंपनी अपने एक रिश्तेदार के साथ मिलकर बनाई थी. यही कंपनी पोर्न फिल्मों के लिए कई एजेंट्स को कॉंन्ट्रेक्ट देती है. इस मामले में राज कुंद्रा का नाम पुलिस के सामने शर्लिन चोपड़ा ने लिया था. पुलिस के मुताबिक शर्लिन चोपड़ा ने कहा कि उन्हें एडल्ट इंडस्ट्री में लाने वाले कुंद्रा ही हैं. शर्लिन के मुताबिक उन्होंने 15 से 20 प्रोजेक्ट किए हैं. हर प्रोजेक्ट के लिए शर्लिन चोपड़ा को 30 लाख रुपये की पेमेंट मिलती थी. वहीं पुलिस पूनम पांडे और एकता कपूर के भी स्टेमेंट पहले ले चुकी हैं. माना जा रहा है कि राज कुंद्रा और भी अभिनेत्रियों और मॉडल्स को इस इंडस्ट्री में लाने की फिराक में था.

इस तरह फंसाते थे कलाकारों को 

छोटे कलाकारों को पहले वेब सीरीज या लघु फिल्म में काम दिलाने का लालच दिया जाता था. जिसके बाद उन्हें ऑडिशन के लिए बुलाकर उत्तेजक सीन शूट कर लिए जाते थे. साथ ही कई बार उनकी इच्छा के विपरीत अर्धनग्न या नग्न सीन भी शूट किए जाते थे. जांच में यह भी पता चला है कि अष्लील फिल्म गिरोह के पीड़ितों को महज कुछ हजार रूपए ही दिए जाते थे. अधिकारियों ने बताया है कि अब तक मामले में 11 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है. साथ ही विभिन्न एप संचालकों से साढ़े सात करोड़ रूपए भी जब्त किये गए हैं.

 


Leave Comments