liveindia.news

बीजेपी ने किए महाराष्ट्र सरकार के ताजिया ठंडे़

महराष्ट्र में मंदिर खोले जाने का विवाद अभी थमा नहीं की, ताजिया निकाले जाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है, महाराष्ट्र बीजेपी ने ठाकरे सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है की राज्य में ताजिया के लिए इजाजत है, लेकिन रामलीला के लिए नहीं. महाराष्ट्र की उद्धव सरकार हिंदू जनभावाना का सम्मान नहीं कर रही है. सरकार का एक धर्म के प्रति लगाव है, लेकिन हमे इससे आपत्ती नहीं है. पर सरकार राज्य में रामलीला की इजाजत क्यों नहीं दे रही है.

दसअसल, महाराष्ट्र की सरकार ने मुस्लिम समुदाय के ताजियो को निकालने की इजाज दी है. लेकिन कोविड के चलते रामलीला की इजाजत नहीं दी है. जिसको लेकर बीजेपी ने उद्धव ठाकरे सरकार पर जमकर हमला बोला है. बीजेपी नेता अमरजीत मिश्रा ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि राज्य में ताजिया के लिए इजाजत है, लेकिन रामलीला के लिए नहीं. महाराष्ट्र की उद्धव सरकार हिंदू जनभावाना का सम्मान नहीं कर रही है. सरकार का एक धर्म के प्रति लगाव है. लेकिन हमे इससे आपत्ती नहीं है. पर सरकार राज्य में रामलीला की इजाजत क्यों नहीं दे रही है. हम इस मुद्दे पर राज्यपाल से मिल चुके हैं. उन्होंने सरकार को दो टूक बोलते हुए कहा है की अगर सरकार ने रामलीला को इजाजत नहीं दी तो हम सरकार से दो-दो हाथ के लिए तैयार है, और अगर अनुमति मिली तो हम सभी नियमों का पालन करेंगे.

बता दें कि महाराष्ट्र में हर साल रामलीला का आयोजन किया जाता है. राज्य में रामलीला के लिए करीब 40 हजार कलाकार छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, से हिस्सा लेने आते है.


Leave Comments