liveindia.news

बारिश से तबाही, 112 की मौत, 99 लापता

बारिश से तबाही, 112 की मौत, 99 लापता

महाराष्ट्र में पिछले कई दिनों से तेज़ बारिश ने कहर बरपा के रखा है. महारष्ट्र के कई इलाको में भारी बारिश के चलते लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. भारी बारिश के चलते कई इलाको में पानी भर गया है और बाढ़ के हालात पैदा हो गए है. कई इलाकों में तो भूस्खलन जैसे हालात बन गए है. इस आपदा के चलते अबतक सैंकड़ों की मौत हो चुकी है.

बाढ़ ने ली कई लोगो कि जान 

महाराष्ट्र में हर साल की तरह इस साल भी कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है. बाढ़ के चलते सैकड़ों लोग अपनी जान गंवा चुके है, तो कई घायल हो गए है. इतना ही नहीं बाढ़ से इंसानो के साथ-साथ पशुओ पर भी इस आपदा का सामना करना पड़ रहा है. बाढ़ और भूस्खलन के चलते राज्य में अबतक 120 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. बारिश के कहर को देखते हुए अबतक 1 लाख से ज़्यादा लोगो को बचा लिया गया है. इसी के साथ महराष्ट्र सरकार ने घोषणा किया है कि मृतकों के परिजनों को 5 लाख सहायता राशि देगी वही केंद्र सरकर ने 2 लाख का मुआवजा देने का एलान किया है.

भारी बारिश का अलर्ट जारी 

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा तबाही सांगली और रायगढ़ जिलों में हुई है. वही रत्नागिरी के चिपलुन में बाढ़ जैसे हालात हो गए है. इन इलाकों में सेलफोन नेटवर्क पूरी तरह से ठप है. इलाकें में लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का काम जारी है. बारिश और बाढ़ को देखते हुए मौसम विभाग ने राज्य के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. कोल्हापुर की पंचगंगा, रत्नागिरी की काजली और कृष्णा नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है.


Leave Comments