liveindia.news

जगन्नाथ यात्रा को लेकर मुस्लिम युवक पहुंचा कोर्ट

ओडिशा में हर साल की तरह निकले वाली भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा. भगवान जगन्नाथ यात्रा को लेकर एक मुस्लिम युवक ने सुप्रीम कोर्ट का दवाजा खटखटाया है. मुस्लिम युवक कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है. युवक का कहना है कि कोर्ट को अपने फेसले पर विचार करना चाहिए. मुस्लिम युवक आफताब हुसैन का कहना है कि पुरी शहर को पूरी तरह से बंद करने के बाद ही रथ यात्रा निकाली जा सकती है और रथ यात्रा की परंपरा को टूटने से बचाई जा सकती है.

युवक ने कहा है कि मंदिर के पास 1172 सेवक है और इन सभी का कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है और रथ को खिचने के लिए 750 लोगों की जरूरत होती है. इसलिए बाहरी लोगों के बिना भी इस रथ यात्रा को निकाला जा सकता है. वही पुरी शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने भी कोर्ट के फैसले को लेकर पुनर्विचार करने की अपील की है. 

बता दें की कोर्ट आज भाजपा नेता संबित पात्रा सहित 21 याचिकाओं पर सुनवाई करेंगी. इससे पहले 18 जून को एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था की कोरोना काल में 23 जून को निकलने वाली जगन्नाथ रथयात्रा को निकालने की अनुमति नही दी जा सकती है. और यदि रथ यात्रा को निकालने की इजाजद दी गई तो भगवान जगन्नाथ हमे माफ नहीं करेंगे.


Leave Comments