liveindia.news

कैबिनेट विस्तार पर पंजाब में फिर बवाल, दिल्ली पहुंची लिस्ट

कैबिनेट विस्तार पर पंजाब में फिर बवाल, दिल्ली पहुंची लिस्ट

पंजाब कांग्रेस का विवाद अभी भी खत्म होती नही दिख रहा है. सीएम पद को लेकर उठे सियासी बवाल को खत्म करने के लिए आलाकमान ने कैप्टन से इस्तीफा लेकर चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बना दिया. लेकिन सरकार के नए मंत्रिमंडल को लेकर पंजाब कांग्रेस में बवाल हो गया है. जानकारी मिली है की नई कैबिनेट को लेकर बीते शुक्रवार को राहुल गांधी के आवास पर रात 2 बजे से सुबह 4 बजे तक बैठक चली, जिसमें मंत्रिमंडल की सूची पर विचार किया गया. 

सूत्रों का कहना है कि नए राज्य मंत्रिमंडल को लेकर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और नवजोत सिद्धू के बीच मतभेद हो गए है. जिससे मंत्रिमंडल विस्तार में देरी हो रही है. क्योंकि सीएम चन्नी के सीएम बनने के बाद उनका तीसरा दिल्ली दौरा है. जिसमें खास बात यह है कि आलाकमान ने तीन बैठकों में से दो बैठकों में सिद्धू को नहीं बुलाया था. सूत्रों का कहना है कि सिद्धू और चन्नी कैबिनेट में कई विधायकों को शामिल करने पर एकमत नहीं थे. बताया जा रहा है कि विधायक राजा वड़िंग, परगट सिंह और कुलजीत नागरा को कैबिनेट में शामिल करने को लेकर दोनों के बीच मतभेद पैदा हो गए है. सिद्धू तीनों विधायकों को कैबिनेट में शामिल करना चाहते है, लेकिन इसके लिए सीएम चन्नी तैयार नही है. 

सूत्रों का कहना है कि जाखड़ भी मंत्रिमंडल में अपने कुछ विधायकों को शामिल करना चाहते थे, लेकिन जाखड़ ने राहुल गांधी से साफ कह दिया है कि वह सरकर में कोई पद नही चाहते है. सूत्रों का कहना है कि पंजाब कैबिनेट मंत्रियों की सूची को अंतिम रूप दिया जा रहा है. सूत्री लगभग तैयार हो चुकी है. अब सूची को सोनिया गांधी के सामने रखा जाना है. माना जा रहा है कि पंजाब कैबिनेट आज अपने मंत्रियों की घोषणा कर सकती है.


Leave Comments