liveindia.news

यहां दुर्गा माता रानी खुद को लगा लेती है आग

धर्म डेस्क : हिन्दू धर्म में काफी अहम माने जाने वाला महीना शारदीय नवरात्र प्रारम्भ हो चुका है. नवरात्र के समय मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है. आपने मां दुर्गा के कई चमत्कारी मंदिरों के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपने मां दुर्गा के ऐसे मंदिर के बारे में सुना है जहां पर वो खुद को आग में भीषण आग में झोंक देती हैं?.. अगर नहीं तो आज हम आपको एक ऐसे ही रहसयमयी मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जहा मां दुर्गा खुद को आग लगा लेती हैं. 

राजस्थान के उदयपुर शहर से 60 किमी दूर, ईडाणा माता मंदिर एक बहुत प्राचीन और ख़ास मंदिर है. यह मंदिर अरावली की पहाड़ियों के बीच बसा हुआ है. कहा जाता है की इस मंदिर में ऐसा चमत्कार है की यहां आने वाले हर भक्त की मनोकामना पूरी होती ही है. इस मंदिर का नाम मेवल की महारानी के नाम पर रखा गया है. 

इस मंदिर की सबसे हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि, यहां पर स्थित देवी मां की प्रतिमा अग्नि स्नान करती है. जी हां इस प्रतिमा से हर महीने में दो से तीन बार अग्नि प्रज्वल्लित होती है. यह आग इतनी भीषण होती है की यहां चढ़ाई जाने वाली चुनरियां और धागे सब भस्म हो जाते हैं. लेकिन आज तक कोई यह नहीं जान पाया है की आखिर यहां पर आग लगती कैसे है. फिर भी लोग यहां पर माता के दर्शन करने बड़ी दूर-दूर से आते हैं. 

 


Leave Comments