liveindia.news

साउथ के भगवान Rajinikanth को दादा साहेब फाल्के अवार्ड

साउथ के भगवान Rajinikanth को दादा साहेब फाल्के अवार्ड

बॉलीवुड से लेकर साउथ की फिल्मों के सुपरस्टार और साउथ के भगवान माने जाने वाले रजनीकांत को मोदी सरकार दुनिया का सबसे बड़ा 'दादा साहेब फाल्के' अवार्ड देने जा रही है. मोदी सरकार के केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने घोषणा करते हुए कहा है कि अभिनेता रजनीकांत को 51वां दादा साहेब फाल्के अवार्ड दिया जाएगा. 3 मई को रजनीकांत को इस अवार्ड से नवाजा जाएगा.

जावडेकर ने आगे कहा है कि सिनेमा जगत में ये अवार्ड 50 बार दिया जा चुका है. अब अगला 51वां अवार्ड रजनीकांत को दिया जा रहा है.

साउथ के भगवान रजनीकांत

रजनीकांत को साउथ में भगवान का दर्जा दिया जाता है. रजनीकांत का जन्म 12 दिसंबर 1950 को बेंगलुरू में हुआ था. रजनीकांत गरीब परिवार से आते हैं, लेकिन उन्होंने मेहनत और संघर्ष के दम से टॉलीवुड से बॉलीवुड में नाम कमाया. रजनीकांत का असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ है. रजनीकांत ने 25 साल की उम्र से ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था. उनकी पहली फिल्म 'अपूर्वा रागनगाल' थी. जिनमें उन्होंने कमल हासन और श्रीविद्या के साथ काम किया था. रजनीकांत की तमिल फिल्म ‘भैरवी’ काफी हिट रही थी.

 


Leave Comments