liveindia.news

बीएसपी नेता ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में बताई वजह

उत्तरप्रदेश डेस्क : उत्तरप्रदेश के बंदायू जिले में बहुजन समाज पार्टी के एक बड़े नेता ने आत्महत्या कर ली है. जिले में सहसवान तहसील क्षेत्र के रहने वाले बीएसपी नेता हरवीर सिंह ने तहसील परिसर में ही सल्फास की गोलियां खा ली, जिसके बाद उन्हें आनन-फानन में एक निजी अस्पताल ले जाया गया. जहां इलाज के दौरान ही उन्होने दम तोड़ दिया और उनकी मौत हो गई. 

बताया जा रहा है कि, हरवीर सिंह प्रशासनिक अधिकारीयों की बदजुबानी और लापरवाही से काफी तंग आ चुके थे. जिसके बाद उन्होंने अपनी ज़िन्दगी खत्म करने का फैसला ले लिया. हरवीर सिंह ने आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमे उन्होंने विस्तार से प्रशासन के अधिकारीयों की लापरवाही की बात को लिखा है. बीएसपी नेता ने दो पेज का सुसाइड नोट छोड़ा है और पूरे मामले के लिए एसडीएम और रजिस्ट्रार कानूनगो को जिम्मेदार ठहराया है. 

यह है मामला 

आपको बता दें कि, बसपा नेता के भाई ने पुलिस को बताया है कि, साल 2006 में हरवीर को जमीन पत्ता आवंटित किया गया था. उस जमीन को संक्रमणीय भूमिधर में दर्ज कराने के लिए वह तहसील के चक्कर लगा रहे थे. वहीं जमीन का काम करने के लिए रजिस्ट्रार और एसडीएम उनसे 50 हज़ार रूपए की रिश्वत मांग रहे थे. जिससे परेशान होकर ही बएसपी नेता हरवीर सिंह ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया. नेता हरवीर सिंह द्वारा उनके नोट में अधिकारियों को सजा दिलवाने की गुहार भी लगाई है. 

 


Leave Comments