शर्मनाक: लाशें Ganga में बहाने के बाद, अब कफन की चोरी

उत्तरप्रदेश डेस्क : आज तक जो केवल सुनने में आता था, अब वो हकीकत में दिखाई देने लगा है. एक ऐसी घटना जिसको सुनकर सभ चौंक गए हैं. कोरोना महामारी ने देश में ऐसे ही  मंज़र ऐसी ही घटनाएं दिखानी शुरू कर दी हैं, कि मानो कलयुग ने अब अपने रंग दिखाने शुरू किये हो. हाल ही में एक ऐसी घटना उत्तरप्रदेश के बागपत से सामने आयी है, जहां पर शवों से कफ़न चोरी किये जा रहे हैं. 

चोरी किये कफ़न दोगुने दामों में बेच रहे 

जी हां , उत्तरप्रदेश की  बड़ैत पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो की शवों के कफ़न चुराते थे. इतना ही नहीं यह गिरोह चुराए हुए कफ़न को दुबारा महंगे दामों में बेच रहा था. हालांकि, पुलिस द्वारा इस गिरोह के सातों लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.   पुलिस ने मास्‍टमाइंड समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है.

रात में घटना को अंजाम देता था गिरोह 

खबरों के अनुसार, आरोपित रात के समय श्मशान घाट से कफन और दूसरे कपड़े चोरी कर ले आते थे और उसके बाद उनकी धुलाई कराकर उन पर ग्वालियर कंपनी के स्टीकर लगा देते थे. चोरी किया हुआ कफ़न पुराना ना लगे इसके लिए कफ़न पर रिबन लगाकर उसे पैक कर दिया जाता था.


Leave Comments