liveindia.news

बाघंबरी मठ में महंत नरेंद्र गिरि को दी गई भू.समाधि

बाघंबरी मठ में महंत नरेंद्र गिरि को दी गई भू.समाधि

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि को बुधवार को प्रयागराज के बाघंबरी मठ में पूरे विधि विधान के साथ में भू-समाधि दे दी गई. इस दौरान बड़ी संख्या में अलग-अलग मठों, अखाड़ों के संत यहां मौजूद रहे. प्रयागराज के संगम तट पर स्वामी नरेंद्र गिरी को अंतिम स्नान कराया गया. इस दौरान हजारों की संख्या में भक्त और श्रद्धालु जुटे. इसके बाद बाघंबरी मठ में महंत नरेंद्र गिरि को भू-समाधि दी गई.  महंत नरेंद्र गिरि की अंतिम यात्रा के दौरान संतों और भक्तों का हुजूम उमड़ा. लोगों ने जगह-जगह फूल माला चढ़ा कर श्रद्धांजलि अर्पित की. अब एक साल तक यह समाधि कच्ची ही रहेगी. इस पर शिव लिंग की  स्थापना कर रोज पूजा अर्चना की जाएगी. इसके बाद समाधि को पक्का बनाया जाएगा. 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा 

मंहत नरेन्द्र गिरि की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ चुकी है रिपोर्ट में नरेंद्र गिरि की मौत की वजह फांसी लगना बताई गई है. वही विसरा सुरक्षित रख लिया गया है. नरेन्द्र गिरि का पोस्टमार्टम पांच डॉक्टरों की टीम ने किया था इसके लिए बाकायदा पैनल गठित किया गया था. जिसमें दो विशेषज्ञ एमएलएन मेडिकल कॉलेज, दो डॉक्टर जिला अस्पताल और एक डॉक्टर शामिल था हालंाकि पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों का नाम गुप्त रखा गया. 

आनंद गिरि से 12 घंटे पूछताछ

खबरों के अनुसार पुलिस ने महंत नरेन्द्र गिरि के शिष्य और आरोपी माने जा रहे आनंद गिरि से पुलिस ने करीब 12 घंटे की पूछताछ की है. पूछताछ के दौरान आनंद गिरि को महंत नरेन्द्र गिरि द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट भी बताया गया. लेकिन पूछताछ में आनंद गिरि एक ही बात बोलता रहा की महंत जी आत्महत्या नहीं कर सकते है, ये एक साजिश है. सूत्रों का कहना है कि यूपी पुलिस ने हरिद्वार आश्रम से आनंद गिरी का लैपटॉप, फ़ोन अपने कब्जे में ले लिया है. जिन्हे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा. नरेन्द्र गिरि को खुदकुशी के लिए उकसाने के मामले में गिरफ्तार आरोपियों को 12 बजे के बाद कोर्ट में पेश किया जाएगा.


Leave Comments