liveindia.news

उत्तरप्रदेश में नाबालिंग से गैंगरेप, फोड़ी आंखे, काटी जीभ

उत्तरप्रदेश में एक नाबालिंग दलित युवती से दरिंदगी की सारी हदे पार कर देने वाली घटना सामने आई. शौच के लिए घर से निकली एक 13 साल की बच्ची को हवस के पूजारियों ने अपनी हवस का शिकार बना लिया. इतना ही नहीं दरिंदों ने बच्ची के साथ गैंगरेप करने के बाद उसके गले में पट्टा डालकर घसीटा इसके बाद भी दरिंदों का मन नहीं भरा तो, आरोपियों ने बच्ची की जीभ काट डाली और उसकी आंखे फोड़ दी.

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या 14 अगस्त को बच्ची अपने घर से शौच के लिए निकली थी, लेकिन जब काफी देर बाद बच्ची घर नहीं लौटी. तो बच्ची के परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कर दी. साथ ही पुलिस को बच्ची गुम होने की सूचना दे दी. परिजनों को बच्ची का शव एक गन्ने के खेत में पड़ा मिला. बच्ची के पिता का कहना है की दरिंदों ने बच्ची की आंखे फोड दी थी, उसकी जीभ भी काट डाली. बच्ची के गले में पट्टा बंधा हुआ था. बच्ची के पिता का कहना है की जिन लोगों पर शक है, वह जब घटनास्थल पर पहुंचे थे. उस दौरान मौजूद थे लेकिन हमलोगों के पहुंचने से पहले वह भाग गए. वही बच्ची के चाचा का कहना है की बच्ची के साथ बालत्कार हुआ है. उन्होंने तीन युवकों पर आरोप लगाया है. 

मामले में पुलिस ने ईसानगर थाने में दो युवक संतोष यादव संजय गौतम के खिलाफ 301 और 201 के तहत मामला दर्ज किया है और दोनों युवको को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का कहना है कि बच्ची की पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में गैंगरेप होने की पुष्टि हुई है. आरोपियों को जेल भेज दिया है.


Leave Comments