liveindia.news

बसंत पंचमी पर करे ये काम, खोल देगे बंद किसमत के पिटारे

बसंच पंचमी पर हम हमेशा मां सरस्वती की पूजा करते है, लेकिन इस पूजा के साथ-साथ हम कुछ ऐसे उपाय अपना ले जो आसान हो और इस दिन करने से आपके जीवन के सारे काम आसान हो जाते है. बसंत पंचमी के दिन पीले कपडे पहनकर पीले फूलाें से हल्दी से और केसर चंदन से मां सरस्वती का पूजन करना चाहिए, लेकिन इसके अलाव भी कुछ ऐसे उपाय है जिसे आप कर सकते है. 

ऊ एं हीं श्री क्ंली महा सरस्वती नमः या ऊ सरस्वतैय नमः का पाठ करे या चंदन और रूद्राक्ष की माला लेकर उससे जाप करें. 108 मोतिया की माला से जाप कर सकते है. इससे आपके ज्ञान की वृद्दि होगी, साथ ही आपके यश में भी वृद्दि होगी. जिस विषय में आपका बच्चा कमजोर है उस विषय की कापी और किताब लेकर उसमें हल्दी से ऐं लिखें. हल्दी चढाकर उसी से ऐं लिखने पर आपको उस विषय का ज्ञान तेजी से होगा और आपका बच्चा इस विषय से भागेगा नहीं. 

कटु वाणी से मुक्ति पाएं - अगर आप कटु वाणी बोलते है या आपके परिवार में कोई कटु वाणी बोलता है तो उससे आज के दिन देवी सरस्वती को शहद चढाव दे और रोज उसी शहद सुबह-सुबह चाटने को कहें, ऐसा करने से आपके उसकी वाणी मधुर होगी. 

मोरपंख - बसंत पंचमी के दिन आप मोर पंख घर लेकर आए. मोरपंख घर लाने के बाद किसी सरस्वती मंदिर में किसी राधा कृष्ण मंदिर में ले जाए या घर पर ही दुर्गा देवी के सामने रख दे उसे चढा दें. वापस उसे उठाकर घर की तिजोरी में रख लें. तिजोरी कभी खाली नहीं होगी. इस मोरपंख को आप बच्चे के स्टडी टेबल पर लगा सकते है और अगर सट्डी टेबल पर नही लगा सकते तो उसको बच्चे के कमरे में पूर्व दिशा की वाल पर लगा दें. बच्चे की बुद्दि में जबरदस्त वृद्दि होगी. अगर आपको बुरे सपने आते है नींद पूरी नही होती है तो इस दिन एक मोरपंख लाकर अपनी तकिया के नीचे रख ले. पूरे 45 दिन तक इस मोरपंख को तकिए के नीचे रखे फिर देखो चमत्कार.
 
इस दिन आप सरस्वती यंत्र लिखकर अपने गले में पहन सकते है. यंत्र लिखने के लिए इत्र और हल्दी का इस्तेमाल करें. इस दिन पीली वस्तुओं का दान करे, चाहे वो इत्र हो चावल या पेन बसंत पंचमी का दिन कामदेव का दिन भी कहलाता है. इस दिन रति और कामदेव की पूजा होती है. चूकि बसंत में मौमस मदमस्त हो जाता है और प्रकृति नया श्रृंगार करती है, इसलिए इस दिन सुखी दापंत्य जीवन के लिए रति कामदेव की पूजा होती है और प्रेमी जोडे अपना बिछडा प्यार पाने के लिए भी उपाय कर सकते है. अपना खोया प्यार पाने के लिए किसी भी राधा कृष्ण मंदिर में जाए और बांसुरी को चढा दे. बांसुरी के साथ-साथ मीठा पान भी चढाना न भूले. आपके जीवन में खोया प्यार वापस आ जाएगा. आपको अपना बिछडा प्यार मिल जाएगा. इस दिन अपने प्रेमी को पीले रंग के फूल दे पीले रंग का इत्र दे और पीले रंग की मिठाई या चाकलेट जो भी दे पीले रंग का दे. क्योकि बसंत पंचमी देशी वेलेन्टाइन भी कहलाता है.




Leave Comments