liveindia.news

पूर्व मंत्री की ऐसी हालत, कर रहे पिज्जा डिलीवरी

पूर्व मंत्री की ऐसी हालत, कर रहे पिज्जा डिलीवरी

एक पूर्व मंत्री की ऐसी हालत है की आज उन्हें आम लोगों की तरह जिंदगी जीने को मजबूर है. इतना ही नहीं उन्हें जीवन यापन करने के लिए पिज्जा डिलीवरी का काम करना पड़ रहा है. यह पूर्व मंत्री अफगानिस्तान सरकार के पूर्व संचार मंत्री सैयद अहमद शाह सादत है. अफगानिस्तान पर तालिबान की हुकुमत के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी सहित देश के कई बड़े नेता, मंत्री सांसद अफगानिस्तान छोड़कर भाग गए है. इन्ही में से एक मंत्री सैयद अहमद शाह सादत है, जो अफगानिस्तान छोड़कर जर्मनी भाग गए और अपना जीवन यापन करने के लिए वह पिछले 2 महीनों से पिज्जा डिलीवरी का काम कर रहे है. 

पूर्व मंत्री सैयद अहमद की एक फोटो सामने आई है, जिसमें सूटबूट पहनने वाले और सुरक्षकर्मियों की सुरक्षा में रहने वाले मंत्री जी आज पिज्जा डिलीवरी कर रहे है. पूर्व मंत्री ने जर्मनी के लिपजिग शहर में शरण ली है. खबरों के अनुसार सैयद अहमद दिसंबर 2020 में ही अफगानिस्तान से जर्मनी भाग गए थे.

हैरानी की बात तो यह है कि सैयद अहमद काफी पढ़े लिखे है, वह इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हैं. लेकिन इसके बाद भी उन्हें पिज्जा डिलीवरी करना पड़ रहा है. बताया जाता है कि सैयाद अहमद ने दुनियाभर में कई काम किए है, लेकिन देश छूटा तो सबकुछ छूट गया. सैयद अहमद ने एक इंटरव्यू में कहा है कि उन्हें कोई काम नहीं मिल रहा था, क्योंकि उन्हें जर्मन बोलना नहीं आती थी. इसलिए वह फिलहाल पिज्जा डिलीवरी का काम कर रहे है और साथ में जर्मन भाषा सीख रहे है, ताकि आगे जाकर वह नौकरी कर सके. 

अफगानिस्तान के हालात बेहद खराब

बता दें कि जब से तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा किया है, तभी से वहां के हालात बेहद खराब होते जा रहे है. अफगानिस्तान में खाने पीने से लेकर रोजमर्रा की चीजों के दाम तीन गुना हो गए है. बैंकिग और स्वास्थ्य सेवाए पूरी तरह से ढप है. वही महिलाओं पर अत्याचार किया जा रहा है, उन्हें काम पर नहीं जाने दिया जा रहा है. अफगानी देश छोड़कर भागने को मजबूर है.


Leave Comments