बिहार में इंसानों के लिए भले शराब बंद है पर कुत्तें तो पीकर मस्त हैं

बिहार में शराबबंदी कानून जबसे लागू हुआ है तबसे बिहार के शराबी, शराब के लिए तरस रहे हैं. जहां इंसानों के लिए शराब पीने के खिलाफ सख्त कानून बनाए गए हैं वहीं अब बिहार के चूहे और कुत्ते शराबी हो गए हैं. इसका नजारा बिहार के बक्सर जिले के सड़कों पर देखने को मिली जहां उत्पाद विभाग के द्वारा नष्ट की गई शराब को खुले नाले में बहा दिया गया. नाले में बहे शराब को पीकर शहर के कुत्ते शराब के नशे में मदहोश हो गए. कुछ महीने पहले बिहार पुलिस के द्वारा जब्त शराब को लेकर अजीबोगरीब दावा किया गया था जिसमें चूहे के शराब पीने की बात सामने आई थी और यह मामला काफी चर्चा में रहा. आपको बताते चलें कि उत्पाद विभाग के अधिकारियों द्वारा बिहार के बक्सर जिले में 87 हजार लीटर शराब की बोतलों पर बुलडोजर चलाते हुए नष्ट कर दिया गया. जहां उत्पाद विभाग का गोदाम है वहां आसपास घनी आबादी है. उत्पाद विभाग द्वारा नष्ट किए गए शराब की दुर्गंध आसपास के लोगों को चैन से रहने नहीं दे रही है. कई महिलाओं और बच्चों को तो उसकी महक से ही नशा और उल्टी होने लगे. हलांकि सरकार के आदेश और अधिकारियों के सामने वह लोग कुछ भी बोलने से कतरा रहे थे लेकिन हद तो तब हो गई जब उत्पाद विभाग द्वारा नष्ट किए गए शराब के नशे में शहर के कुत्ते मदहोश होने लगे.


Leave Comments