केंद्र सरकार का तोहफा, न्यूनतम वेतन बढ़ के हो सकता है 21 हजार

लाइव इंडिया न्यूज- केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा देते हुए  कर्मचारियों की न्यूनतम तनख्वाह 18 हजार रुपये से 21 हजार रुपये करने का फैसला किया है. वित्त मंत्रालय के सूत्रों ने यह जानकारी दी है. हालांकि केंद्र सरकार के कर्मियों ने न्यूनतम वेतन 26 हजार रुपये तय करने की मांग की थी. कर्मचारी संगठनों की मांग पर सरकार ने इसके लिए विसंगति समिति यानी एनोमली कमेटी का गठन किया था. सरकार की ओर से यह कमेटी कर्मचारी संघों से वार्ता कर रही थी. अब सूत्रों का कहना है कि एनोमली कमेटी न्यूनतम वेतन 21 हजार रुपये करने पर सहमत हो गयी है.

संभव है इस समिति की सिफारिश पर सरकार जल्द इस फैसले को लागू करे. ध्यान रहे कि केंद्रीय कैबिनेट पूर्व में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद इसे न्यूतनम 18 हजार रुपये करने को स्वीकृत कर चुका है.
कुछ समय पहले वित्तमंत्री अरुण जेटली ने केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन में पुन: संशोधन करने का संकेत दिया था. उन्होंने कहा था कि केंद्रीय कर्मियों का न्यूनतम वेतन 18 हजार रुपये साातवें वेतन आयोग की सिफारिश की आधार पर तय किया गया है, पर सरकार संबंधित पक्षों से वार्ता के आधार पर वृद्धि करने पर विचार कर सकती है. कर्मचारी संघों की दलील रही है कि कर्मियों का वेतन और बढ़ना चाहिए ताकि वे लंबे समय तक सेवा में बने रहें और बेहतर कार्य प्रदर्शन करें.


Leave Comments