liveindia.news

लैब असिस्टेंट की गला घोंटकर हत्या

फूड क्वालिटी कंट्रोल सेल के लैब असिस्टेंट की गला घोंटकर हत्या कर दी गई. इसका खुलासा तब हुआ, जब डॉक्टरों ने पुलिस को शॉर्ट पीएम रिपोर्ट दी. पत्नी ने अस्पताल में डॉक्टरों को बताया कि उन्हें सांप ने काटा है. टखने के पास सांप के दांत के निशान भी दिखाए. घटना के वक्त घर में पति-पत्नी ही थे. कमला नगर पुलिस का शक पत्नी पर गहरा गया है. पूछताछ के लिए पुलिस ने महिला को हिरासत में लिया है.

बी-26, कमला नगर निवासी 56 वर्षीय सुरेश सिंह नेहरू नगर स्थित फूड क्वालिटी कंट्रोल सेल में लैब असिस्टेंट थे. ये सेल मिनिस्ट्री ऑफ कंज्यूमर फूड एंड पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन विभाग के अधीन है. टीआई के मुताबिक मंगलवार सुबह करीब साढ़े छह बजे सुरेश की 44 वर्षीय पत्नी सीमा सिंह भी घर पर ही थीं. उन्होंने मकान मालिक को बताया कि सुरेश को सांप ने काट लिया है. इसके बाद सुरेश को एक निजी अस्पताल पहुंचाया. डॉक्टरों ने उन्हें हमीदिया अस्पताल के लिए रैफर किया. यहां सुरेश को मृत घोषित कर दिया गया. अस्पताल से मिली सूचना पर कमला नगर पुलिस भी पहुंची. शव का पोस्टमार्टम करवाया. डॉक्टरों ने शॉर्ट पीएम रिपोर्ट दी, जिसमें गला दबाकर हत्या किए जाने का खुलासा हुआ.

सांप का जहर नहीं मिला

शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में सुरेश के शरीर में सांप के जहर की पुष्टि नहीं हुई. उनके शरीर पर नाखून के निशान भी मिले, जो सांप के काटने से नहीं आते. सुरेश के पैर में दो निशान मिले हैं, जो सांप के काटने से नहीं आए हैं. ऐसा अंदाजा है जैसे ये निशान सेफ्टीपिन से बनाए गए हों. इससे पुलिस का शक सुरेश की पत्नी सीमा पर गहरा गया. सीमा जबलपुर में रहती हैं.

सुरेश की पहली पत्नी सोमा की वर्ष 2002 में मौत हो गई थी. वर्ष 2004 में सुरेश ने जबलपुर निवासी सीमा से दूसरी शादी की. पहली पत्नी से उनका एक बेटा है शुभम. वह अभी 23 साल का है और बीटेक कर चुका है. सुरेश मूलत: उन्नाव के रहने वाले हैं और उनका जबलपुर के सुहागी में एक मकान भी है. शुभम ने पुलिस को बताया है कि सीमा और सुरेश के बीच अक्सर विवाद होते रहते थे. पुलिस मामले का खुलासा करने के मकसद से पति-पत्नी के मोबाइल फोन की लोकेशन और कॉल डीटेल भी खंगाल रही है. फिलहाल पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है.


Leave Comments