राम रहीम ही क्यों और भी बाबाओं के कारनामों को भी जरा देख लीजिए

लाइव इंडिया न्यूज़। शुक्रवार को बाबा गुरमीत राम रहीम को पंचकूला की सीबीआई अदालत ने बलात्कार मामले में दोषी करार दे दिया है। राम रहीम पर सजा का ऐलान 28 अगस्त को होना है। हालांकि, राम रहीम पहले ऐसे 'धर्मगुरु' नहीं हैं जो विवादों में रहे हैं। आईए, नजर डालते हैं राम रहीम सहित उन बाबाओं पर जो विवादों में रहे।

स्वामी रामपाल
स्वामी रामपाल: हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, पंजाब सहित दिल्ली में दबदबा रखने वाले कथित संत रामपाल फिलहाल जेल में हैं। उनके ऊपर हत्या से लेकर देशद्रोह तक के कई आरोप हैं। रामापल को 20 नवंबर, 2014 को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तारी का वह मामला भी सुर्खियों में रहा था। पुलिस जब गिरफ्तार करने पहुंची तब समर्थकों ने पूरे आश्रम को घेर लिया था। फिर बड़ी कार्रवाई के बाद पुलिस राममाल को हिरासत में लेने में कामयाब रही।
स्वामी नित्यानंद: एक विदेश पत्रिका 'माइंड बॉडी स्पिरिट' द्वारा कभी दुनिया के 100 बड़े धर्मगुरुओं में शुमार किए गया नित्यानंद विवादों में तब आया जब उसका एक महिला के साथ आपत्तिजनक वीडियो सामने आया। नित्यानंद ने दावा किया कि वीडियो फर्जी था। यह वीडियो सबसे पहले एक तमिल टीवी चैनल पर चलाया गया। एक भारतीय मूल की अमेरिकी महिला ने भी नित्यानंद पर रेप का आरोप लगाया।

स्वामी सदाचारी उर्फ चंद्रस्वामी
स्वामी सदाचारी उर्फ चंद्रस्वामी: पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव से चंद्रस्वामी का करीबी रिश्ता उन्हें सुर्खियों में ले आया। तांत्रिक माने जाने वाले चंद्रस्वामी को नरसिम्‍हा राव के आध्‍यात्मिक सलाहकार के रूप में भी देखा जाता था। स्वामी पर ईडी ने फेमा के उल्लंघन से संबंधित 13 केसों में 9 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया था। 1996 में लंदन के एक व्यापारी के साथ धोखाधड़ी के मामले में 1996 में चंद्रास्वामी को गिरफ्तार किया गया था। इसी साल चंद्रस्वामी की मई में मृत्यु हो गई थी।

आसाराम
आसाराम: जेल में बंद आसाराम बापू पर 16 साल की लड़की के साथ रेप का आरोप लगा है। यह मामला आसाराम के जोधपुर आश्रम का है। माना जाता है कि आसाराम के पूरी दुनिया में 400 से ज्यादा आश्रम हैं। आसाराम पर उनके आश्रम में दो लड़कों की रहस्‍यमत मौत में शामिल होने का आरोप भी है। इस आरोप में आसाराम का बेटा नारायणसाई भी जेल में है। आसाराम उस वक्त भी विवादों में आए थे जब 16 दिसंबर की गैंगरेप की घटना के बाद कहा था लड़की भी उस घटना के लिए जिम्मेदार थी। आसाराम ने तब कहा था कि लड़की को रेप करने वालों को भाई कहना चाहिए था और छोड़ने के लिए प्रार्थना करनी चाहिए थी।

 


Leave Comments