liveindia.news

Gandhi Jayanti: सोलर लैंप से रोशन होगा गांधी का जन्मदिन

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर स्कूली छात्र उन्हें सोलर लैंप के जरिये खास अंदाज में श्रद्धांजलि देंगे. दरअसल, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय और आईआईटी मुंबई दो अक्तूबर को ‘ग्लोबल स्टूंडेट सोलर असेंबली’ का आयोजन कर रहे हैं.

इसमें साठ देशों के दस लाख से अधिक बच्चे हिस्सा लेंगे. भारत में यह आयोजन करीब 3500 स्थानों पर होगा। दिल्ली में दस हजार से अधिक बच्चे इंदिरा गांधी स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे.

‘ग्लोबल स्टूंडेट सोलर असेंबली’ के तहत स्कूली बच्चों को सोलर लैंप बनाना सिखाया जाएगा. इसके बाद बच्चे खुद अपना सोलर लैंप बनाएंगे। इस कार्यक्रम को ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में दर्ज कराने के लिए गिनीज बुक ऑफ बर्ल्ड रिकॉर्ड के प्रतिनिधि में मौजूद रहेंगे. छठी और उससे ऊपर की कक्षाओं में पढ़ने वाले बच्चे पहले ट्रेनर की निगरानी में सोलर लैंप बनाएंगे। शाम को सभी बच्चे एक साथ अपना बनाया हुआ सोलर लैंप जलाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करेंगे.

इस मौके पर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह सहित कई केंद्रीय मंत्री भी मौजूद रहेंगे. मंत्रालय का मानना है कि इससे बच्चों में पर्यावरण और प्रकृति के साथ तालमेल बनाकर चलने का हुनर पैदा होगा.

जलवायु परिवर्तन के प्रति भारत ने बेहद संवेदनशीलता दिखाई है और 2022 तक 175 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा पैदा करने का लक्ष्य रखा है. सरकार इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए गंभीर है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में संयुक्त राष्ट्र में कहा है कि भारत 2030 तक इस लक्ष्य को 450 गीगावाट तक बढ़ाएगा.


Leave Comments