liveindia.news

अब ऐप एक सेल्फी से बताएगा, आपको कैंसर या हेपेटाइटिस तो नहीं होने वाला

वाशिंगटन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने एक ऐसा ऐप विकसित किया है, जिससे लोग आसानी से अग्नाशय यानी पैंक्रियाज में होने वाले कैंसर का पता कर सकते हैं. बस इसके लिए लोगों को अपने स्मार्टफोन से एक सेल्फी लेनी होगी.

बिलीस्कीन नाम के इस ऐप में व्यक्ति की आंख के सफेद भाग में बढ़े बिलीरुबिन स्तर का पता लगाने के लिए स्मार्टफोन के कैमरे का उपयोग किया जाता है. यह ऐप कंप्यूटर विजन एल्गोरिदम और मशीन लर्निंग टूल्स का उपयोग करता है.

पैंक्रिएटिक कैंसर के शुरुआती लक्षणों में से एक और अन्य रोगों जैसे पीलिया में त्वचा और आंखों का रंग पीला हो जाता है. यह रक्त में पाए जाने वाले बिलीरूबिन के निर्माण के कारण होता है. वयस्कों में, आंखों का सफेद हिस्सा बिलीरूबिन के स्तर में परिवर्तन के प्रति अधिक संवेदनशील होता है. यह पैंक्रिएटिक कैंसर या हेपेटाइटिस के लिए एक प्रारंभिक चेतावनी का संकेत हो सकता है. 

आशा है कि अगर लोग एक महीने में एक बार एक बार यह साधारण परीक्षण कर सकें, तो कुछ लोग इस बीमारी के पनपने के पहले की उसका इलाज कराकर अपनी जान बचा सकते हैं. 70 लोगों पर किए गए एक शुरुआती ​​अध्ययन में ऐप ने वर्तमान में किए जाने वाले ब्लड टेस्ट की तुलना में 89.7 फीसद मामलों की सही पहचान की.


Leave Comments