liveindia.news

सावधान! कही आप नकली वैक्सीन तो नही लगवा रहे

सावधान! कही आप नकली वैक्सीन तो नही लगवा रहे

देश और दुनिया में फैली कोरोना महामारी से निपटने के लिए वैक्सीन सबसे कारगर मानी जा रही है. हालांकि वैक्सीन लगावाने के लिए लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. लेकिन इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक चेतावनी जारी की है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविशिल्ड की नकली वैक्सीन को लेकर चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि संगठन ने कोविशिल्ड के नकली वर्जन की पहचान की है.

संगठन ने कहा है कि जुलाई और अगस्त के बीच भारत और अफ्रीका में नकली खुराक को जब्त कर लिया है. वही वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ने भी खुराक नकली होने की पुष्टि की है. डब्ल्यूएचओ ने कहा है की नकली वैक्सीन इंसान के स्वास्थ्य को खतरा पैदा कर सकती है. कोविशील्ड एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन का भारतीय निर्मित वर्जन है यह वैक्सीन भारत में अबतक 48.6 करोड़ से ज्यादा लोगों को दी जा चुकी है. 

भारत और युगांड़ा में मिली नकली वैक्सीन

विश्व स्वास्थ्य संगठन को भारत और युगांडा में कोवीशील्ड की नकली वैक्सीन मिली है. नकली वैक्सीन मिलने के बाद डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी जारी की है. कोवीशील्ड बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ने नकली वैक्सीन की पहचान करते हुए कहा है कि वह उन शीशी में वैक्सीन की सप्लाई ही नहीं करते है. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि नकली वैक्सीन मिलने के बाद उसे तुरंत नष्ट किया जाना चाहिए. युगांडा में मिली नकली वैक्सीन की शीशी 5 एमएल की थी, जिसमें 10 डोज लगाने की बात कही गई थी.


Leave Comments