liveindia.news

जासूसी कांड़ : राहुल-संबित में जमकर हो गई

जासूसी कांड़ : राहुल-संबित में जमकर हो गई

देश के राजनेताओं, अधिकारियों और पत्रकारों की जासूसी मामले में आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने संसद के बाहर प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार पर जमकर हमला बोला. राहुल गांधी ने कहा की पेगासस का इस्तेमाल कर बीजेपी ने देशद्रोह किया है. मेरी और प्रेस के लोगों की जासूसी की है. राहुल गांधी के इस बयान पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर तंज मारते हुए कहा है कि राहुल को अपनी जासूसी का शक है तो अपने फोन की फोरेंसिक जांच क्यों नही करा लेते, ऐसा क्या है उनके फोन में जो वह छिपा रहे है. पेगासस मामले को लेकर ममता बनर्जी ने कहा है कि यह स्थिति बहुत गंभीर है. हालात इमरजेंसी से भी गंभीर हैं. 

राहुल ने बोला सरकार पर हमला

राहुल ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा है कि आज देश का विपक्ष यहां खड़ा हुआ है. आज यहां हर पार्टी का नेता मौजूद है, लेकिन हमारी आवाज को संसद में दबाया जा रहा है. हमारा केवल एक ही सवाल है की हिंदुस्तान की सरकार ने पेगासस खरीदा ही क्यों और अगर खरीदा है तो क्या सरकार ने पेगासस का उपयोग अपने लोगों पर किया है. हमे केवल हां या ना में जबाव चाहिए है, हम सरकार का जबाव चाहते है. 

पात्रा ने कहा राहुल क्या छिपा रहे है 

राहुल गांधी के जबाव पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल और विपक्ष के नेता सदन की कार्यवाही को नहीं चलने दे रहे है. जनता कोरोना पर सदन में चर्चा चाहती है, लेकिन विपक्ष कार्यवाही को नहीं चलने दे रहा है. राहुल गांधी ने कहा है कि उनके फोन में हथियार है, तो वह पुलिस में शिकायत दर्ज कराएं. अपने फोन की फोरेंसिक जांच क्यों नहीं कराते है. आखिर उनके फोन में ऐसा क्या है जो वह छिपा रहे है. कांग्रेस मुद्दों को भटकाने का काम कर रही है. आखिर राहुल गांधी की जासूसी कोई क्यों करवाएगा. उनसे पार्टी तो संभाली नहीं जाती. जब पेगासस मामले पर मंत्री अश्विनी जवाब दे रहे थे, तो उनके हाथ से कागज छीनकर फाद दिया गया. ये गैर जिम्मेदाराना हरकत है. 

सरकार करे विपक्ष से चार्चा - राहुल गांधी 

राहुल गांधी ने कहा है कि सरकार का कहना है कि सदन में पेगासस पर कोई बात नहीं होगी, यानि सरकार ने कुछ गलत किया है. आखिर सरकार ने ऐसा क्या किया है जो देश के लिए खतरनाक है. लेकिन सरकार के लोग कहते है कि हम सदन को चलने नहीं दे रहे है. जिस हथियार को आतंकवादियों और देशद्रोहियों के खिलाफ उपयोग किया जाता है, उसका उपयोग नरेंद्र मोदी जी ने भारतीय संस्थाओं और लोकतंत्र के खिलाफ उपयोग क्यों किया.


Leave Comments