विश्व योग दिवस के मौके पर क्या बोले पीएम मोदी : पढ़े पुरी खबर

लाइव इंडिया न्यूज़ आज देश और दुनिया में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ में हजारों लोगों के साथ योग कर योग दिवस मनाया। उन्होने लोगों को  संबोधित करते हुए कहा कि योग एक विशेषता है, मन को स्थिर रखने की शक्ति है. योग हमें जीने की कला सिखाता है, उन्होंने कहा कि आज लखनऊ में कुछ नया देखने को मिला, मोदी बोले कि जीवन में योग के साथ योग मैट का किस तरह उपयोग हो सकता है ये भी लखनऊ के लोगों ने बता दिया. तेज बारिश होने के बावजूद भी लोग यहां पर डटे रहे.

मोदी ने कहा कि योग हमारे ऋषियों की पहचान है, विश्व के अनेक देश जो ना ही हमारी भाषा जानते हैं, ना ही हमारी परंपरा जानते हैं. लेकिन योग के कारण पूरी दुनिया हमारे देश के साथ जुड़ रहा है, योग जो कि मन और बुद्धि को जोड़ता है वह अब देशों को जोड़ रहा है.

मोदी ने कहा कि सयुंक्त राष्ट्र ने कम समय में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मंजूरी दी थी, पिछले 3 साल में पूरी दुनिया में कई योग इंस्टीट्यूट बने हैं. वहीं योग के टीचरों की मांग भी बढ़ने लगी है, योग एक प्रोफेशन के तौर पर उभरा है. विश्व में नया जॉब मार्कट तैयार हो रहा है.

मोदी बोले कि पहले लोग अपने-अपने तरीके से योग करते थे, लेकिन अब इसका भी वैज्ञानिक तरीका सामने आया है और इसमें बदलाव हुआ है. पिछले साल यूनेस्को ने भारत के योग को मानव संस्कृति के महत्वपूर्ण हिस्से के रुप में मान्यता दी है.

योग से करने से मिलती है खुशी:
पीएम ने कार्यक्रम में कहा कि भारत में भी कई राज्य ऐसे हैं, जिन्होंने योग को शिक्षा में शामिल किया है इससे भारत की अगली पीढ़ी को फायदा मिलेगा. मोदी ने कहा कि फिट रहने के साथ खुश रहना भी जरुरी है, योग से आपको वो खुशी मिलती है. उन्होंने कहा कि लोग लगातार योग को अपने अनुसार फैला रहे हैं, मैं आग्रह करता हूं कि लोग इसे अपने जीवन का हिस्सा जरूर बनाएं.

नमक का महत्व : जीवन में नमक की तरह है योग 
मोदी ने कहा कि जिस समय हम पहली बार योग करते हैं, तो हमें अपने शरीर के महत्वपूर्ण अंगों के बारे में पता लगता है. मोदी ने कहा कि योग शुरू करने से अंग एक नया जोश आता है. कभी-कभी लोग मुझे योग के बारे में पूछते हैं, तो मैं कहता हूं कि नमक सबसे सस्ता होता है लेकिन खाने में नमक ना हो तो खाने का स्वाद बिगड़ जाता है और इसके साथ ही शरीर पर भी प्रभाव पड़ता है. उन्होंने कहा कि जीवन में नमक ना होने से जीवन नहीं चलता है. मोदी बोले कि जैसे नमक का हमारे जीवन में महत्व है, वैसा ही योग का भी होना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर पूरा देश इस तरह योग करे मैं ऐसी अपेक्षा करता हूं.।


Leave Comments