liveindia.news

भारत की एकमात्र जल्लाद फैमिली

उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक जल्लाद फैमिली रहती है. जी हां, यह जल्लाद परिवार देश में काफी मशहूर है. इनका पारिवारिक काम लोगों को फांसी देना है .पवन का परिवार देश की इकलौती जल्लाद फैमिली कहलाता है. फांसी देने का काम उनका पुश्तैनी है. यह पीढ़ी-दर-पीढ़ी चला आ रहा है. परदादा से लेकर पोते तक ने इस पेशे को अब तक कायम रखा है. 

देश के चर्चित कांड के आरोपी रंगा-बिल्ला को फांसी पवन के दादा कल्लू जल्लाद ने ही दी थी. तब कल्लू जल्लाद को मेरठ से दिल्ली की सेंट्रल जेल बुलाया गया था. यही नहीं, इंदिरा गांधी के हत्यारों को भी कल्लू सिंह ने ही फांसी का फंदा पहनाया था. पवन के परदादा ने अंग्रेजी हुकूमत में सरदार भगत सिंह को भी फांसी पर लटकाया था. जिसकी टीस अब तक उनके परिवार को है. 

पवन जल्लाद के दादा कल्लू सिंह को देश की अन्य जेलों में भी फांसी देने के लिए बुलाया जाता था. उनके दादा को फांसी देने में महारथ हासिल थी . बताया जाता है कि उस वक्त उनके जैसा फांसी का फंदा कोई और जल्लाद नहीं बना पाता था. इसीलिए जब भी देश की किसी जेल में फांसी दी जानी होती थी, तो उनके दादा को एक बार जरूर याद किया जाता था.


Leave Comments